देश

मुंबई के जिस ताज होटल पर हुआ था आतंकी हमला वही होगी आतंकरोधी समिति की बैठक

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : मुंबई के जिस ताज होटल को पाकिस्तान से आए आतंकियों ने अपना निशाना बनाया था उसी ताज होटल में अब संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की आतंक विरोधी समिति की 29 और तीस तारीख को बैठक होने जा रही है।

Advertisement

महाराष्ट्र में करीब 14 वर्ष पहले मुंबई के जिस ताज होटल को पाकिस्तान से आए आतंकियों ने अपना निशाना बनाया था, उसी ताज होटल में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) की आतंक विरोधी समिति (CTC) की बैठक होने जा रही है।

Advertisement

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की सीटीसी की बैठक 28 व 29 को होगी


आतंक विरोधी समिति (CTC के अध्यक्ष रुचिरा कांबोज के अनुसार संयुक्त राष्ट्र के 15 सदस्य देशों के राजनयिकों व समिति के अन्य सदस्यों की मेजबानी इस बार भारत करेगा। यह बैठक इस माह के अंत में 28 व 29 तारीख को होने जा रही है। मुंबई में होने वाली बैठक का आयोजन कुलाबा स्थित उसी ताज होटल में होगा, जिसे 14 साल पहले आतंकियों ने निशाना बनाकर तहस-नहस कर दिया था।

सीटीसी की बैठक न्यूयार्क के बाहर कम ही होती है। भारत सातवां ऐसा देश होगा, जो इस बैठक की मेजबानी करने जा रहा है। कांबोज ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय द्वारा किए जा रहे प्रयासों के बावजूद आतंकवाद का खतरा बना हुआ है। ऐसे में नई तकनीक का इस्तेमाल पर आतंकवाद के खतरे पर काबू पाना ही हम सबकी चिंता है। बैठक में इस विषय पर सभी के विचारों और अनुभवों से आगे की रणनीति बनाने में मदद मिलेगी।

पाकिस्तानी आतंकियों ने किया था भीषण हमला


26 नवंबर, 2008 को मुंबई पर पाकिस्तान से जल मार्ग से आए 10 आतंकियों ने जबरदस्त हमला किया था। मुंबई के छत्रपति शिवाजी टर्मिनस रेलवे स्टेशन, कुलाबा स्थित होटल ताज, कामा अस्पताल, लियोपोल्ड कैफे व नरीमन हाउस पर एक साथ हमला कर आतंकियों ने 166 लोगों की जान ले ली थी और सैकड़ों लोग घायल हुए थे।

मरने वालों में 18 सुरक्षाकर्मी भी थे। इनमें मुंबई के तीन जांबाज पुलिस अधिकारी एटीएस प्रमुख हेमंत करकरे, एनकाउंटर स्पेशलिस्ट विजय सालस्कर व अतिरिक्त पुलिस आयुक्त अशोक कामटे भी शामिल थे।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button