play-sharp-fill
बिलासपुर

लोकस्वर की खबर का असर : फटा हुआ राष्ट्रीय ध्वज रेलवे प्रशासन ने उतारा…..

Advertisement

Advertisement

Advertisement

(भूपेंद्र सिंह राठौर के साथ सतीश साहू) : बिलासपुर – रेलवे के जोनल मुख्यालय के रेलवे स्टेशन में 100 फीट की ऊंचाई पर मंगलवार को फटा हुआ तिरंगा लहरा रहा था। जिसकी खबर लोकस्वर न्यूज की टीम ने प्रमुखता के साथ प्रसारित किया था।

मामला अधिकारियों के संज्ञान में आते ही बुधवार को राष्ट्रीय ध्वज को सम्मानपूर्वक नीचे उतारा गया।

अब देखना यह होगा कि फटा हुआ राष्ट्रीय ध्वज फहराने के मामले में रेलवे प्रशासन किसकी जवाबदेही तय करता हैं।

कब माना जाएगा आपने तिरंगे का अपमान किया? : भारतीय फ्लैग कोड के मुताबिक तिरंगे को फहराते समय इस बात का खास ध्यान रखें कि वो झुका न हो, वो जमीन से न छू रहा हो या फिर उसका कुछ हिस्सा पानी में न डूब रहा हो. अगर ऐसा होता है तो ये तिरंगे का अपमान माना जाएगा.

तिरंगे में सबसे ऊपर केसरिया और सबसे नीचा हरा रंग होना चाहिए. किसी भी स्थिति में ऊपर हरा और नीचे केसरिया रंग नहीं होना चाहिए.

झंडा फटा हुआ या मैला-कुचैला नहीं होना चाहिए. घर पर या किसी भी संस्थान में तिरंगा फहराया जा रहा है, तो उसके बराबर या उससे ऊंचा कोई दूसरा झंडा नहीं होना चाहिए.

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button