बिलासपुर

अखंड सौभाग्य की कामना को लेकर सुहागिनों ने किया हरितालिका व्रत….


(मुन्ना पाण्डेय) : लखनपुर -(सरगुजा) – त्योहारों के श्रृंखला में हरतालिका व्रत का विशेष महत्व है सुहागिन महिला अपने सौभाग्य संतानों की सुरक्षा एवं धन धन की वृद्धि के कामना को लेकर मनाया। हरतालिका व्रत भादो मास के शुक्ल तृतीया तिथि को निर्जला उपवास रखकर पूरे विधि विधान से मनाया जाता है इस दिन माता पार्वती शिव शंकर की पूजा अर्चना करती हैं। पौराणिक मान्यता अनुसार भगवान शंकर ने माता पार्वती को हरतालिका व्रत के बारे वृतांत बताया था। आदिकाल से हरितालिका व्रत मनाने की रवायत रही है।

Advertisement


हरतालिका तीजा व्रत मंगलवार को नगर सहित आसपास के ग्रामीण अंचलों में वर्ती महिलाओं ने पूर श्रद्धा भक्ति के साथ मनाया। माता पार्वती भगवान शिव शंकर के कथा सुने मंदिर देवालयों में पूजा अर्चना करते हुए पहुंचकर माथा टेका तथा चलन के अनुसार अपने-अपने घरों में माता पार्वती के पूजा अर्चना किया। तीजा त्यौहार के मौके पर ग्रामीण अंचल में करमा नृत्य किए जाने का भी चलन रहा है जिसे लोगों ने बखूबी निभाया पूरे उत्साह उमंग के साथ तीजा त्यौहार मनाया गया।

Advertisement

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button