महासमुंद

महासमुंद एसपी भोजराम पटेल के द्वारा बाल सुरक्षा सप्ताह 2022 का टाउन हॉल महासमुंद में किया गया शुभारंभ…..

Advertisement

(प्रदीप भोई) : महासमुंद – दिनांक 14.11.2022 को पुलिस अधीक्षक महोदय महासमुंद भोजराम पटेल (IPS) एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक आकाश राव के द्वारा अंतर्राष्ट्रीय बाल दिवस दिनाँक 14 नवम्बर 2022 के उपलक्ष्य पर बच्चों को शुभकामना देते हुये महासमुन्द पुलिस विभाग के द्वारा टाउन हाॅल महासमुन्द परिसर में बच्चों की सुरक्षा जागरूकता विषय पर जिले बाल सुरक्षा सप्ताह में दिनांक 14.11.2022 से 20.11.2022 तक 07 दिवसीय जागरूकता कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। कार्यक्रम की शुभारंभ पश्चात मुख्य अथितियों के द्वारा महिला एवं बच्चों से संबंधित सुरक्षा विषय पर विस्तृत उद्बोधन दिया गया एवं पुलिस अधीक्षक महासमुन्द, महोदय के द्वारा बच्चों प्रेरणा देते हुये। जीवन में अपने आप को इतना मजबूत बनाओं कि कोई भी आपको किसी भी गलत कार्याें व नशा के लिए प्रेरित न कर सकें। अपने आप को मानसिक रूप मजबूत करें ताकि किसी प्रतिस्थिति का सामना कर सके। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, महोदय के द्वारा स्वामी विवेकानंद के सिध्दांतों को बच्चों में अपने विचार रूप में प्रकट किया गया।

Advertisement

मुख्य अतिथि के रूप में विधायक महासमुन्द विनोद सेवनलाल चन्द्राकर के द्वारा गुरूओं का सम्मान करे और संघर्ष कर जमीन से उठकर सम्मानिय नागरिक बनने की बात बनने की प्रेरणा दी और देश की तरक्की में अपना योगदान देने की बात कही। जिला कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष श्रीमति डाॅ. रश्मि चन्द्राकर के द्वारा चाचा नेहरू जैसे बच्चों को आगे बढने की पे्ररणा देते थे वैसे ही छत्तीसगढ में अपना नाम रौशन करने बात की गई। तथा मुख नगर पालिका अधिकारी राशि त्रिभुवन महिलांग के द्वारा बच्चों को घर के माता-पिता से प्राप्त छुट का ज्यादा फायदा नही उठाते हुये। माता-पिता सपनों पर खरे उतरने की बात कही।

Advertisement

कार्यक्रम में महासमुन्द जिले विभिन थानों में बाल मित्र की पुलिस अधिकारी, राजपत्रित पुलिस अधिकारी व शहर के गणमान्य नागरिक, पुलिस परिवार उपस्थित थे। बाल दिवस के अवसर पर बच्चों की जागरूकता कार्यक्रम के द्वितीय दिवस 15 नवम्बर को शहरी क्षेत्र महासमुन्द में स्कुल, काॅलेज, अन्य शैक्षणिक संस्थानों में आयोजित किया जाएगा। जिसमे गुड टच-बैड टच, पोक्सो एक्ट के प्रावधान, साईबर सुरक्षा, जेजे एक्ट, मानव तस्करी, नशा के दुष्प्रभाव की जानकारी दिया जावेगा।

तृतीय दिवस 16 नवम्बर को सार्वजनिक क्षेत्र (रेल्वे स्टेशन, बस स्टैण्ड, माॅल, पार्क, आदि) में गुड टच-बैड टच पोक्सो एक्टके प्रावधान, मानव तस्करी, बाल विवाह, बाल श्रम, स्वच्छता, नशा के दुष्प्रभाव, पीडित क्षतिपूर्ति योजना आदि से संबंधित जानकारी दी जावेगी ।

चतुर्थ दिवस 17 नवम्बर को स्कुल, काॅलेज के बच्चों को पुलिस थाना, चैकी का भ्रमण में पुलिस की कार्यप्रणाली के बारे में जानकारी दी जावेगी।

पंचम दिवस 18 नवम्बर को विभिन्न प्रकार के बाल देखरेख संस्थान जैसे बाल गृह, बाल सम्प्रेक्षण गृह, विशेष गृह, खुला आश्रय गृह में गुड टच-बैड टच, पोक्सो एक्ट के प्रावधान, मानव तस्करी,, बाल विवाह, बाल श्रम, स्वास्थ्य, स्वच्छता, नशा के दुष्प्रभाव जानकारी दी जावेगी ।

षष्टम दिवस दिनांक 19 नवम्बर को छात्रावास/हाॅस्टल आदि में गुड टच-बैड टच, पोक्सो एक्ट के प्रावधान, बाल विवाह, बाल श्रम, पौष्टिक आहार, नशा के दुष्प्रभाव आदि की जानकारी दी जाएगी ।
सप्तम दिवस दिनांक 20 नवम्बर को खेलकूद, निबंध, कविता, रंगोली प्रतियोगिता आदि का आयोजन को अभियान का समापन महासमुन्द में गणमान्य नागरिकों के मध्य किया जाएगा।


कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अथिति के द्वारा दीप प्रज्वलित कर राज्य गीत से किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि रूप में विधायक महासमुन्द विनोद सेवनालाल चन्द्राकर, जिला काग्रेस कमेटी की अध्यक्ष डाॅ. रश्मि चन्द्राकर, मुख्य नगर पालिका अधिकारी राशि त्रिभुवन महिलांग, पुलिस अधीक्षक महासमुन्द भोजराम पटेल (IPS) व अति0 पुलिस अधीक्षक आकाश राव, अनु0अधिकारी (पु) महासमुन्द मंजूलता बाज, अनु0अधिकारी (पु) यातायात, राजेश देवांगन, अनु0अधिकारी (पु) बागबाहरा प्रतिभा चन्द्रा, प्रशिक्षु उप पुलिस अधीक्षक गरिमा दादर, रक्षित निरीक्षक नितीश नायर, सउनि प्रवीण शुक्ला, रोशना डेवडि उपस्थित रहे।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button