play-sharp-fill
अम्बिकापुर

एक नाम के तीन व्यक्ति, किसी के खाते का पैसा किसी के बैंक खाते में हो गया जमा….

Advertisement

(मुन्ना पाण्डेय) : लखनपुर- (सरगुजा) : जंप क्षेत्र में एक ऐसा हैरतअंगेज मामला सामने आया है कि एक नाम के तीन व्यक्ति होने कारण प्रधानमंत्री आवास योजना के सही पात्र हितग्राही का 1 लाख 30 हजार रुपए अन्य दूसरे मिलते जुलते नाम वाले गांव के ही दूसरे व्यक्ति के बैंक खाते में जमा हो गया।या फिर षड्यंत्र पूर्वक जानबूझ कर पूर्व सरपंच सचिव द्वारा जमा करा दिया गया। इस बात की खुलासा अभी तक नहीं हो सका है कि किसके भूल से ऐसी गलती हुई है। इस बात का पता आवास हितग्राही तब हुई जब वह अपने बैंक खाते से राशि आहरण करने बैंक में गया। बैंक में आवास हितग्राही को बताया गया कि उसके खाते में कोई पैसा जमा नहीं हुई है। गरीब के पैर के नीचे जमीन खिसक गई।

Advertisement

दरअसल मामला है जनपद पंचायत लखनपुर क्षेत्र के ग्राम पंचायत जयपुर (ख) झाबर का है जहां एक ही नाम के तीन व्यक्ति हैं (१) फेंकू राम आ0 जयनदन जाति केवट (2) फेंकू राम आ0 बोधी राम जाति कंवर (3) फेंकू राम आ0 अमरसाय जाति कंवर अब जबकि शासन के ओर से हितग्राही फेंकू राम आ0 जयनदन जाति केवट के नाम वर्ष 2016-17 प्रधानमंत्री आवास स्वीकृत हुआ था। हितग्राही का सेन्ट्रल बैंक शाखा लखनपुर में खाता क्रमांक 3512726304 खुला हुआ है। जिसमें शासन द्वारा दिये जाने वाला निर्माणाधीन आवास का पैसा जमा होना था लेकिन अफसोस कि हकदार के खाते में पैसा जमा न होकर फेंकू राम आ0 अमरसाय जाति कंवर के खाते में आवास का पैसा जमा हो गया। मूल हितग्राही फेंकू राम केवट के खाते में पैसा नहीं आने कारण निर्माण कार्य अधुरा तथा लम्बित पड़ा हुआ है। यह बात भी सामने आ रही है कि पूर्व सरपंच सचीव द्वारा जानबूझ कर साजिश पूर्ण तरीके से लहपटरा सेन्ट्रल बैंक शाखा में फेंकू राम आ0 अमरसाय जाति कंवर के नाम खाता क्रमांक 3589293415 खुलवा कर पैसा जमा करा दिया गया। सेन्ट्रल बैंक शाखा लखनपुर से जारी स्टेटमेंट से हकीकत खुलकर सामने आई। किसी का पैसा किसी के खाते में जमा हो गया या फिर करा दिया गया। परेशान आवास हितग्राही ने इस सन्दर्भ में 5 जुलाई 2022 को टोकन क्रमांक 2020322001311 के जरिए बाकायदे जन चौपाल में जिला कलेक्टर के सम्मुख आवास राशि दिलाये जाने की मांग करते हुए दरखास पेश किया है।

Advertisement

इस संबंध में फेंकू राम केवट ने इस मामले के निराकरण के निसबत जिला कलेक्टर द्वारा जारी दिशानिर्देश के बारे में जानने की ख्वाहिश लेकर मुख्य कार्यपालन अधिकारी वेद प्रकाश पाण्डेय से 21 सितंबर को जनपद पंचायत कार्यालय लखनपुर पहुंच मुलाकात किया। लिहाजा मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने सुक्ष्मता से जांच कराते हुए नितिगत वैज्ञानिक कार्यवाही कराने आश्वासन दिया है।

सवाल तो इस बात का है कि पैसा जमा कराने में गलती कहां से हुई है जिला से या जनपद पंचायत कार्यालय या बैंक शाखा से या फिर षड्यंत्र पूर्वक दूसरे का पैसा दूसरे के बैंक खाते में जमा करा दिया गया। जांच का विषय है। जांच के बाद ही खुलासा हो सकेगा कि आवास योजना का राशि किसके गलती से किसके खाते में जमा हुआ है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button