देश

राहुल की न्याय यात्रा से पहले हो जाए सीट बंटवारा, नहीं तो…

Advertisement

(शशि कोंन्हेर) : कुछ महीनों बाद देश में लोकसभा चुनाव होने हैं, लेकिन यूपी में इंडिया गठबंधन सीट बंटवारे के फेर में फंसकर रह गई है। कहां किस सीट पर सपा लड़ेगी और कितनी सीटें कांग्रेस को मिलेंगी? इसको लेकर स्थिति अभी साफ नहीं हो पाई है। सीट बंटवारे को लेकर अब सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कांग्रेस को वार्निंग दे दी है।

Advertisement

दरअसल शनिवार को अखिलेश यादव बलिया में थे। इस दौरान उनसे सीट बंटवारे को लेकर सवाल किया गया। इस पर अखिलेश यादव ने कहा, 14 जनवरी से कांग्रेस की भारत जोड़ो न्याय यात्रा निकल रही है। अभी तो ये कांग्रेस की यात्रा है, जितने भी देश के दल हैं कांग्रेस पार्टी के साथ गठबंधन करके लड़ना चाहते हैं।

Advertisement

अखिलेश ने कहा, हमे उम्मीद है कि राहुल गांधी की इस यात्रा से पहले सभी प्रदेशों की सीट का बंटवारा हो जाएगा, जिससे लड़ाई और मजबूती से लड़ी जा सके। राहुल गांधी के सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा, यात्रा अच्छी बात है, लेकिन सभी दल ये चाहते हैं कि राहुल की यात्रा से पहले सीट बंटवारा हो जाए।

बातचीत के दौरान अखिलेश यादव ने कांग्रेस को वार्निंग देते हुए कहा, समय से सीट बंटवारा हो जाएगा तो यात्रा में सभी लोग अपने आप सहयोग करने के लिए निकल जाएंगे। लेकिन अगर सीटों का बंटवारा नहीं हुआ तो सपा नहीं खड़ी दिखाई देगी।

सूर्य के उत्तरायण होते ही हो जाएगा गठबंधन पर फैसला

सपा प्रमुख मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आगे कहा, सूर्य के उत्तरायण (मकर संक्रांति पर) होते ही गठबंधन का फैसला हो जाएगा। इंडिया गठबंधन में समाजवादी पार्टी पूरी जिम्मेदारी के साथ है। गठबंधन में कौन कहां से चुनाव लड़ेगा, इसकी भी जानकारी जल्द हो जाएगी। यूपी ही नहीं देश की जनता भाजपा को हटाना चाहती है।

वह शनिवार को फेफना में दिवंगत जिलाध्यक्ष राजमंगल यादव की तेरही में शामिल होने आए थे। पत्रकारों से बातचीत में अखिलेश ने कहा कि विकसित भारत का नारा देकर गांव-गांव गाड़ियां पहुंचाकर यह सपना साकार नहीं किया जा सकता। किसान की आय बढ़ाकर, नौजवानों को नौकरी देकर ही विकसित भारत बन सकेगा।

देश की सीमाएं कितनी असुरक्षित हो गयी है। अभी हाल में देश के रक्षामंत्री को मारे गए तीन नागरिकों के घर जाना पड़ा। रक्षामंत्री शहीद के घर नहीं गए। देश की सुरक्षा उतनी मजबूती से नहीं हो रही है जितनी मजबूती से होनी चाहिये। बड़े-बड़े सपने दिखाए गये थे, लेकिन जमीन पर कुछ भी नहीं है। उन्होंने कहा कि चीन घर में घुस रहा है। सीमा पर 1962 में शहीद जवानों की याद में बनाए गए मेमोरियल को तोड़ दिया गया।

Advertisement

सरकार सीमा की सुरक्षा करने के बजाय सीएए ला रही है। महंगाई व बेरोजगारी उसी तरह से है। अयोध्या के राम मंदिर के सवाल पर उन्होंने कहा कि धर्म राजनीति का हिस्सा नहीं हो सकता। भाजपा को आय दोगुनी हुई कि नहीं, रोजगार मिले कि नहीं, इन सवालों का जवाब देना होगा। इंडिया गठबंधन पर उन्होंने कहा कि कहां कि कौन किस पद पर बैठेगा इसका सवाल नहीं है। हमारे लिए मुख्य बात यह है कि बीजेपी को हराना है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button