देश

वैदिक मंत्रोच्चार के साथ शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद को दी गई समाधि, धार्मिक रीति-रिवाज से अंतिम विदाई; श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : नरसिंहपुर : ज्योतिषपीठ बद्रीनाथ और शारदा पीठ द्वारका के शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती जी को वैदिक मंत्रोच्चार के बीच समाधि दी गई।

Advertisement

साधु-संतों ने रीति-रिवाज और धार्मिक कर्मकांड से समाधि संपन्न कराई। इससे पहले भजन कीर्तन के साथ उन्हें पालकी में बैठाकर समाधि स्थल तक लाया गया।

Advertisement

इस दौरान हजारों की संख्या में उनके शिष्य, अनुयायी और श्रद्धालु मौजूद रहे। जिन्होंने नम आंखों से अपने गुरुदेव को अंतिम विदाई दी।

स्वरूपानंद सरस्वती का 98 वर्ष की आयु में रविवार को निधन हो गया था। रविवार को उन्होंने झोतेश्वर स्थित परमहंसी गंगा आश्रम में दोपहर करीब साढ़े 3 बजे अंतिम सांस ली थी।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button