बिलासपुर

कोरोना की वजह से जेलों में नही होगा रक्षाबंधन का आयोजन….

(आशीष मौर्य) : बिलासपुर – भाई-बहन के सबसे पवित्र रिश्ते का त्योहार रक्षाबंधन 22 अगस्त को है, लेकिन इस बार भी कोरोना संक्रमण की वजह से बिलासपुर सेंट्रल जेल समेत प्रदेश की सभी 33 जेलों में रक्षाबंधन पर किसी भी तरह का आयोजन नहीं किया जाएगा। न तो बहनें अपने भाइयों से मिल पाएंगी और न ही राखी बांध सकेंगी। इस बार भी डाक पोस्ट के माध्यम से ही जेल में बंद महिला और पुरुषों का त्यौहार मनेगा।

Advertisement

यह दूसरी बार होगा कि बिलासपुर केंद्रीय जेल सहित प्रदेश की सभी 33 जेलो में रक्षाबंधन के दिन बहने अपने बंदी भाइयों से नही मिल पाएगी। रक्षाबंधन का दिन ही एक ऐसा दिन होता है जब बहने अपने बंदी भाइयों को प्रत्यक्ष रूप से मिलकर उन्हें राखियां बांधती है। लेकिन इस बार कोरोना संक्रमण के कारण महिला और पुरुषों के लिए जेल में राखी का आयोजन नही किया जाएगा। जेल प्रशासन ने इस बार डाक पोस्ट से राखी भेजने और मंगाने का निर्णय लिया है। महिला जेल से करीब 300 राखी डाक पोस्ट से भेज दी गयी है, वही पुरुष जेल में बहनों के राखी आने का सिलसिला जारी है। जेल प्रशासन ने अपने खर्च पर ये व्यवस्था की है।

Advertisement

बिलासपुर के केंद्रीय जेल में 2760 पुरुष और 190 महिला बंदी बंद है। जेल के भीतर जो भी राखियां आ रही है उन्हें पहले सेनेटाइज किया जा रहा है। रक्षाबंधन के दिन कैदियों को हर बार की तरह विशेष पकवान परोसे जाएंगे। कोरोना के कारण जेल प्रशासन पूरी तरह से एहतियात बरत रहा है।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button