छत्तीसगढ़बिलासपुर

बिलासपुर के एक थाने में लड़े पुलिसकर्मी.. आरक्षक ने प्रधान आरक्षक को मारा मुक्का…

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : बिलासपुर  : जिले के पुलिसकर्मी इन दिनों अपने ही विभाग का पलीता निकालने कोई कसर नहीं छोड़ रहे है। पहले तो न्यायधानी गुंडे बदमाश मारपीट की घटना को अंजाम देते थे पर अब तो पुलिस वाले ही आपस में मारपीट करने लगे है। मिली जानकारी के अनुसार सरकंडा थाने में पदस्थ आरक्षक तदबीर पोर्टे और प्रधान आरक्षक प्रमोद सिंह के बीच आज सुबह पेट्रोलिंग को लेकर विवाद हो गया।

Advertisement

विवाद इतना बढ़ गया की आरक्षक तदबीर पोर्टे ने प्रधान आरक्षक प्रमोद सिंह को मुक्का मार दिए जिससे प्रधान आरक्षक प्रमोद सिंह को चेहरे पर चोट आई है।

Advertisement

वही इस मारपीट की घटना के बाद बिलासपुर एसएसपी पारुल माथुर ने आरक्षक तदबीर पोर्टे को लाइन अटैच कर दिया है। पर सवाल ये है की जब पुलिसकर्मी ही खुलेआम लॉयन ऑर्डर की धज्जियां उड़ा रहे है।


एक आरक्षक ने अपने सीनियर पुलिसकर्मी को मुक्का मार कर घायल कर दिया, जिससे लगता है की छोटे पुलिसकर्मियों को अपने सीनियर का जरा भी डर नहीं है?सूत्रों के मुताबिक कही कोई आरक्षक पुलिस विभाग के बड़े अधिकारी के नाम पर पैसा वसूली करता है तो कही कोई आरक्षक अपने से बड़े अधिकारी के साथ मारपीट करता है।


मानो अब पुलिस विभाग अपनी फजीहत कराने पर पूरी तरह लग गया है।जब पुलिस विभाग ही ऐसा करेगा तो आम आदमी का पुलिस पर से भरोसा ही उठ जाएगा।आपको बता दे की पुलिस विभाग को बदनाम करने वाले कुछ ही ऐसे पुलिस कर्मी है,जिनकी वजह से सारा पुलिस विभाग बदनाम हो रहा है विभाग के उच्च अधिकारियों को चाहिए कि ऐसे पुलिस कर्मियों पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए जिससे की पुलिस विभाग बदनाम न हो।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button