छत्तीसगढ़

डायरिया को लेकर विधायक बांधी ने दिये “कम बैक टीम” के गठन के निर्देश

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : बिलासपुर। डायरिया ने अब शहर के अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में भी अपने पैर पसारने शुरू कर दिए हैं मस्तूरी में 2 गांव में डायरिया के मरीज मिलते ही मस्तूरी विधायक सक्रिय हों गए।

Advertisement

विधायक ने विकास खंड चिकित्सा अधिकारी से इसकी चर्चा की एवं उन्हें आवश्यक निर्देश दिए कि मस्तूरी में एक सूचना केंद्र बनाए जिससे बीमार लोगों की सूचना आते ही  उन्हें तत्काल इलाज मुहैया कराया जा सके साथ ही एक कम बैक टीम का भी गठन हों जो प्रभावित गांव में जा कर त्वरित इलाज की व्यवस्था कर सके।

Advertisement

डॉ बांधी ने अपने मैदानी कार्यकर्ताओं को सजग रहने को कहा है और पंचायत के अधिकारियों को सचेत रहने के निर्देश दिए हैं ताकि कहीं से भी डायरिया के मरीजों की सूचना पहुंचते ही  तत्काल उपचार कर उन्हें राहत पहुंचाई  जा सके
उन्होंने सभी स्वास्थ्य केंद्रों में डायरिया की पर्याप्त मात्रा में दवाइयों की उपलब्धता सुनिश्चित करने कहा है।

मस्तूरी विधायक  पेशे से डाक्टर  हैं बिमारी की गंभीरता को देखते हुए उन्होंने आम जनता से अपील की है कि बरसात को देखते हुए हरी सब्जियों को इस्तेमाल करने से पहले उसे अच्छी तरह धोकर उपयोग में लाएं एवं पीने के लिए अधिक से अधिक कुनकुने अथवा गर्म पानी का उपयोग करें खाना हमेशा हाथ धो करके खाएं एवं संभव हो सके।

तो गर्म भोजन का  सेवन करें उन्होंने बताया कि बारिश में बैक्टीरिया और कीटाणुओं का प्रकोप अधिक होता है इसलिए यह सावधानी बरतने से हम काफ़ी हद तक डायरिया जैसी बीमारी से बच सकते हैं उन्होंने अपील की है कि आसपास कोई भी यदि डायरिया का मरीज दिखे तो उसकी सूचना तुरंत स्वास्थ्य विभाग एवं कमबैक टीम को दें  ताकि विभाग आसानी से डायरिया पर काबू पा सके।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button