play-sharp-fill
देश

जल्द भारत लाए जाएंगे भगोड़े विजय माल्या-नीरव मोदी..

Advertisement

भगोड़े ‘किंगफिशर एयरलाइंस’ के पूर्व प्रवर्तक विजय माल्या, हीरा कारोबारी नीरव मोदी और हथियार डीलर संजय भंडारी के अलावा पंजाब के अलगाववादियों और आतंकवादियों से सहानुभूति रखने वाले वांछितों की भारत वापसी हो सकती है।

Advertisement

यानी उनका प्रत्यर्पण हो सकता है। इस वक्त भारत के कई भगोड़े ब्रिटेन में हैं और केंद्रीय एजेंसी उनके प्रत्यर्पण की कोशिश कर रही हैं। इसी सिलसिले में भारत और ब्रिटेन ने आपसी कानूनी सहायता संधि के तहत कार्रवाई में तेजी लाने और भगोड़ों से संबंधित प्रत्यर्पण अनुरोधों को प्राथमिकता देने की आवश्यकता पर सोमवार को चर्चा की।

Advertisement

ब्रिटेन के एक उच्च-स्तरीय प्रतिनिधिमंडल की सोमवार को केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) मुख्यालय की यात्रा के दौरान इस मुद्दे पर चर्चा की गई।

इस प्रतिनिधिमंडल में इंटरपोल महासचिव पद के लिए ब्रिटेन के उम्मीदवार स्टीफन कवानाघ भी शामिल थे। सीबीआई निदेशक प्रवीण सूद और एजेंसी के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने ब्रिटेन के साथ संचालनात्मक सहयोग बढ़ाने के बारे में कवानाघ के साथ विस्तृत चर्चा की।

सीबीआई प्रवक्ता ने एक बयान में बताया कि दोनों पक्षों ने आपराधिक खुफिया जानकारी साझा करने और वित्तीय अपराधों, संगठित अपराध, आतंकवाद, साइबर अपराध और अन्य अंतरराष्ट्रीय खतरों से निपटने सहित कई मुद्दों पर चर्चा की।

इसमें कहा गया कि वे सहयोग को बढ़ाने के लिए भविष्य में संवाद और सहयोगात्मक पहल की आशा करते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button