राजनांदगांव

लोकतांत्रिक व्यवस्था में निर्भीक, निष्पक्ष एवं मजबूत प्रेस की भूमिका महत्वपूर्ण – कलेक्टर

Advertisement

(उदय मिश्रा) : राजनांदगांव – कलेक्टर तारन प्रकाश सिन्हा ने आज प्रेस क्लब में सभी पत्रकारों से सौजन्य भेंट की। कलेक्टर ने कहा कि लोकतांत्रिक व्यवस्था में प्रेस की महत्वपूर्ण भूमिका है। प्रेस जितना निर्भीक, निष्पक्ष एवं मजबूत होगी उतना ही अच्छे से लोगों की भलाई के लिए कार्य करेगा। उन्होंने बताया कि शासन द्वारा पत्रकार कल्याण के लिए बहुत से कार्य किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि शासन द्वारा अधिमान्यता नियम का सरलीकरण किया गया है। वरिष्ठ पत्रकारों को 10 हजार रूपए सम्मान निधि प्रतिमाह दी जा रही है। वहीं पत्रकार कल्याण कोष से चिकित्सा के लिए पहले दी जा रही 50 हजार रूपए की सहायता राशि को बढ़ाकर 2 लाख रूपए की गई है। आकस्मिक मृत्यु होने की स्थिति में 5 लाख रूपए की मदद शासन की ओर से दी जा रही है। पत्रकार सुरक्षा कानून के प्रारूप के लिए आफताब आलम की अध्यक्षता में समिति का गठन किया गया था, जिसने प्रारूप सौंप दिया है। राजनांदगांव में प्रेस क्लब की लंबी परंपरा रही है। यह डॉ. पदुमलाल पुन्नालाल बख्शी, गजानंद माधव मुक्तिबोध एवं डॉ. बल्देव प्रसाद मिश्र की भूमि रही है, जिसे हम संस्कारधानी कहते है।

Advertisement

कलेक्टर श्री सिन्हा ने कहा कि कम समय में ही यह महसूस हुआ है कि यहां के पत्रकार समझदार है एवं सामाजिक सरोकार रखते हैं। कोविड-19 के दौरान यहां के पत्रकारों ने अपना दायित्व निभाया और सभी ने उदारतापूर्वक बहुत सहयोग किया। कोविड-19 से सुरक्षा हेतु वैक्सीनेशन के लिए भी पत्रकारगण अपना दायित्व निभा रहे है। उन्होंने कहा कि अच्छी पत्रकारिता को पूर्वाग्रह से ग्रस्त नहीं होना चाहिए। व्यक्तिगत बातें पत्रकारिता में नहीं आना चाहिए, बल्कि पूर्वाग्रह से हटकर कार्य करना चाहिए। हर व्यक्ति को अपना पक्ष रखने का अधिकार है। जिस व्यक्ति के खिलाफ खबर लिखी जा रही है उसका कथन रखना भी निष्पक्ष रहने का प्रमाण है। पत्रकार को पक्षपाती नहीं होना चाहिए तथा व्यक्तिगत तौर पर किसी को आहत करने से बचना चाहिए।

Advertisement

शासन-प्रशासन को समाचार पत्रों के माध्यम से बहुत से बातों की जानकारी मिलती है और आम जनता से जुड़ी समस्याओं को सुधारने का मौका मिलता है। उन्होंने कहा कि विकासखंड स्तर पर पत्रकारों को शासन की योजनाओं से लाभान्वित करने की जरूरत है। राजनांदगांव का प्रेस क्लब सुव्यस्थित है और आगे भी इसी तरह आपसी एकता और समन्वय से कार्य करते रहे। इस दौरान कलेक्टर ने प्रेस क्लब का अवलोकन भी किया।

प्रेस क्लब के अध्यक्ष सचिन अग्रहरि ने कहा कि राजनांदगांव प्रेस क्लब का इतिहास पुराना रहा है। वरिष्ठ पत्रकार सुशील कोठारी, अशोक पाण्डेय, सीएल जैन सोना ने प्रेस क्लब का पंजीयन कराया था। इसके बाद यह निरंतर विस्तारित होता गया। निर्वाचन पद्धति से चुनाव किए गए। सूरज बुद्धदेव भी प्रेस क्लब के अध्यक्ष रहे। उन्होंने कहा कि यह खुशी की बात है कि शासन की ओर से भूमि का आबंटन पत्रकारों को प्राप्त हुआ है। प्रेस क्लब के संरक्षक जितेन्द्र मिश्रा ने कहा कि शासन द्वारा प्रेस क्लब के लिए 20 लाख रूपए की राशि दी है। इसके साथ ही सस्ते दर पर 10 एकड़ की भूमि पत्रकारों के लिए आबंटित की गई है। प्रदेश में शायद ही एक साथ इतनी बड़ी भूमि पत्रकारों को आबंटित हुई है। प्रेस क्लब में लाईब्रेरी का भी निर्माण करना है। इस अवसर पर नगर निगम आयुक्त आशुतोष चतुर्वेदी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिथलेश चौधरी, एसडीएम मुकेश रावटे, सचिव अनिल त्रिपाठी, कोषाध्यक्ष लक्ष्मण लोहिया, हाउसिंग बोर्ड सोसायटी के अध्यक्ष अतुल श्रीवास्तव एवं प्रेस क्लब के अन्य सदस्य उपस्थित थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button