जांजगीर-चाम्पा

उस स्कूल के प्राचार्य ने छात्रों को दिया प्रस्ताव-90% से अधिक अंक लाओ और मेरी ओर से हवाई यात्रा पर जाओ

(शशि कोन्हेर) : जांजगीर चांपा. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल छत्तीसगढ़ बोर्ड परीक्षा के होनहार छात्रों को हवाई यात्रा करा रहे हैं, तो वहीं दूसरी ओर जिले में एक ऐसे भी प्राचार्य हैं जो खुद के खर्च से होनहार बच्चों को हवाई यात्रा करा रहे हैं. अब तक वे दो छात्रों को हवाई यात्रा करा चुके हैं. आनेवाले बोर्ड परीक्षा परिणाम में उनके स्कूल के जितने भी छात्र 90 प्रतिशत से ज्यादा अंक लाएंगे, उन सभी छात्रों को हवाई यात्रा कराएंगे. प्राचार्य के इस कार्य को लेकर बच्चों के अभिभावक सहित आसपास के लोग काफी प्रफुल्लित हैं.

Advertisement

शासकीय हाई स्कूल मुड़पार के प्राचार्य अपने स्कूल की बोर्ड परीक्षा के होनहार छात्रों को खुद की जेब से हवाई यात्रा करा रहे हैं. अब तक स्कूल के दो छात्रों को हवाई यात्रा करा भी चुके हैं. प्राचार्य के इस जुनून के चलते एक ओर छात्रों के रग-रग में पढ़ाई का जज्बा घर कर गया है और वे पूरे जोश के साथ पढ़ाई में जुट गए हैं. ताकि उनका रिजल्ट 90 प्रतिशत से ऊपर आ सके और वे हवाई जहाज की सैर कर सकें.

Advertisement

स्कूल के प्राचार्य सेवक राम राठौर ने शिक्षा को बढ़ावा देने कई तरह की योजनाएं लागू की हैं. उन्होंने बीते शिक्षा सत्र में घोषणा की थी कि बोर्ड परीक्षा में जो भी छात्र 90 प्रतिशत से अधिक अंक लाता है तो उसे हवाई टिकट दिया जाएगा. प्राचार्य के इस घोषणा के बाद छात्रों ने जोरशोर से पढ़ाई शुरू कर दी है. प्राचार्य कहते हैं कि आज भी ग्रामीण अंचल के छात्रों न तो हेलिकॉप्टर देखा और न ही हवाई जहाज. इसी कारण एक नया प्रयास शुरु किया.

Advertisement

अभिभावकों ने भी इस कार्य की प्रशंसा करते हुए कहा कि आज गांव के जिन छात्रों ने कभी हेलिकॉप्टर भी नहीं देखा उन्हें प्रोत्साहित करने के लिए हवाई यात्रा करवाना निश्चित ही अच्छा तरीका है. प्राचार्य के द्वारा की गई इस घोषणा पर शिक्षिका कौशिल्या सिन्हा, आकांक्षा अग्रहरी, प्रेमलता कुर्रे, चंद्र मोहन तिवारी ने भी प्रशंसा की है.

प्राचार्य सेवक राम राठौर ने पिछले वर्ष 2 छात्र आकाश साहू और अंजलि रत्नाकर को बिलासपुर से जबलपुर भेड़ाघाट की हवाई यात्रा कराई थी. प्राचार्य के द्वारा अपने स्वयं के व्यय से हवाई टिकट प्रदान किया था, जिससे छात्र बहुत उत्साहित और रोमांचित नजर आए. इसके बाद इस स्कूल के बहुत से छात्र ऐसे हैं जो हवाई यात्रा करने के लिए अच्छी पढ़ाई कर रहे हैं.

प्राचार्य सेवक राम राठौर का कहना है कि मेरी ओर से एक छोटा सा प्रयास है. इस प्रयास के बाद छात्रों में शिक्षा के प्रति रुझान बढ़ा है. बीते वर्ष दो छात्र अपने अच्छे रिजल्ट की वजह से हवाई यात्रा करा चुके हैं. इस वर्ष और भी कई छात्र 90 फीसदी अंक के साथ परीक्षा पास करेंगे. उन्हें भी उड़ने का मौका मिलेगा.

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button