play-sharp-fill
कोरबा

भूविस्थापित ने हताशा में जहर का सेवन कर खुदकुशी की…

(शशि कोन्हेर) : कोरबा जिले में SECLकुसमुंडा परियोजना के भू-विस्थापित दिलहरण पटेल की मौत की मौत हो गयी है, बताया जा रहा है कि प्रबंधन के रवैये से हताश होकर उसने जहर का सेवन किया था।

Advertisement


परिजनों पर दुःखों का पहाड़ टूट पड़ा है। इसके लिए एसईसीएल प्रबंधन को जिम्मेदार ठहराया है। दिलहरण के पुत्र मुकेश कुमार ने बताया कि एसईसीएल द्वारा घर का सर्वे किया गया और कहा गया था कि काम देंगे। इसके बाद न तो काम मिला और न ही मुआवजा दिया गया। एसईसीएल के इस रवैय्ये के कारण जीवन यापन मुश्किल हो गया। इन मुश्किल हालातों में परेशान होकर दिलहरण ने जहर का सेवन कर लिया था।

Advertisement

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button