play-sharp-fill
बिलासपुर

EXCLUSIVE : दहशत में परिवार, स्वस्थ होने के बाद भी ओमिक्रोन के पाजिटिव को झेलनी पड़ रही मानसिक परेशानी…स्वास्थ्य विभाग पर परिजनों ने उठाए सवाल

(नीरज शर्मा) : बिलासपुर – गोलबाजार के पास गोंड़पारा में रहने वाले 52 वर्षीय अधेड़ के ओमिक्रोन से पाजिटिव होने की पुष्टि कर दी गई है। हालांकि अभी वह पूरी तरह से स्वस्थ हैं, लेकिन अब परिवार को मोहल्ले वालों का विरोध सहना पड़ रहा है। जिससे कि परिवार के सदस्यों में दहशत का आलम बना हुआ है। इसी वजह से मानसिक के साथ ही अन्य शारारिक पेरशानी का भी सामना करना पड़ रहा है।

Advertisement


ओमिक्रोन पाजिटिव की पुष्टि होने के बाद मरीज के पत्नी ने स्वास्थ्य विभाग के कार्यप्रणाली पर सवाल उठाया है। उनके मुताबिक विदेश से लौटे एक महीने से ज्यादा का समय हो चुका है। 18 दिसम्बर को जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए सेंपल भुनेश्वर भेजा गया था। जिसके तकरबिन 18 दिन बाद रिपोर्ट आया है। साफ है कि मेरे पति पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं। यदि स्वास्थ्य यह काम पहले किया रहता तो इसका कोई मतलब निकलता। अब स्वस्थ होने के बाद भी परेशानी सहना पड़ रहा है। मरीज की पत्नी ने यह भी बताया कि जब से ओमिक्रोन की पुष्टि की गई है, तब से विरोध सहना पड़ रहा है। बुधवार की रात को भी कुछ मोहल्ले वासी ने घर को घेर लिया था और हंगामा किया, जिससे परिवार वाले डरे हुए हैं। साथ ही अब मेरे पति को मानसिक परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। बीपी बढ़ने लगा है और लगातार सिर दर्द की शिकायत हो रही है। जब पाजिटिव थे तो समस्या नहीं हुई, लेकिन अब इस बात के फैल जाने के बाद हम मानसिक और शारारिक रूप से ज्यादा परेशान हो रहे हैं।

Advertisement

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button