बिलासपुर

कांग्रेस जनों ने, कांग्रेस भवन में, शहादत दिवस पर, स्वर्गीय विद्याचरण शुक्ल को दी श्रद्धांजलि

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : बिलासपुर। ज़िला कांग्रेस कमेटी ( शहर/ग्रामीण ) द्वारा 11 जून को कांग्रेस भवन में पूर्व केंद्रीय मंत्री स्व विद्याचरण शुक्ल की शहादत दिवस के अवसर पर उनकी छायाचित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धाजंलि दी गई।

Advertisement


इस अवसर शहर अध्यक्ष विजय पांडेय ने कहा विद्या चरण शुक्ल भारतीय राजनीति के ऐसे धुरी थे ,जिनके इर्दगिर्द राजनीति घूमती थी ,विद्या भैया एक मिलनसार, सहज, और सरल व्यक्तित्व के धनी थे , जो काम मे विश्वास करते थे,जो भी उनके पास जाता उनका काम जरूर करते थे,कार्यकर्ताओ से जीवंत सम्पर्क ने उन्हें 9 बार लोकसभा में पहुंचाया ,और लगभग सभी पोर्टफोलियो में मंत्री रहे ,इंदिरा जी के बहुत ही विश्वास पात्र और नरसिम्हा राव जी की सरकार के संकट मोचक रहे ,विद्याचरण जैसे राजनेता बिरले होते है.

Advertisement


संयोजक ज़फर अली, एसएल रात्रे ने कहा विद्याचरण का जन्म ऐसे परिवार में हुआ ,जिनकी आंगन में राजनीति नाचती थी ,पिता और बड़े भाई अविभाजित मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री रहे ,युवा विद्याचरण शिक्षा के बाद कुछ व्यवसाय भी किये किन्तु 1957 में कांग्रेस ने उन्हें एक युवा तुर्क के रूप चुनावी मैदान में उतारा और विद्या भैया संसद पहुंच गए ,फिर कभी पिछे मुड़कर नही देखा, शालीन व्यवहार के कारण सभी के चहेते रहे,कांग्रेस से दूरी बढ़ने पर विभिन्न पार्टी में भी गए ,किन्तु अंतिम आशियाना कांग्रेस को बनाया ,2013 के आसन्न विधानसभा के लिए परिवर्तन यात्रा के दौरान 25 मई को नक्सली हमले में बुरी तरह घायल होने के बाद भी खुद से ज्यादा अपने साथियों की फिक्र थी और उन्हें बचाव के लिए प्रेरित कर रहे थे ।

Advertisement


11 जून को मेदांता में विद्या भैया ने अंतिम सांस ली और इस तरह एक राजनीति की क्षितिज पर चमकता धूमकेतु सदा के लिए बुझ गया। कार्यक्रम को ब्लाक अध्यक्ष विनोद साहू,ब्रजेश साहू,पिंकी बतरा,हेमन्त दिघरस्कर,सत्येंद्र तिवारी ने भी सम्बोधित किया बड़ी संख्या में कांग्रेसजन उपस्थित थे।

Advertisement
Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button