play-sharp-fill
गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही

प्रेम संबंध के बाद भी भाभी के साथ शादी से, देवर ने किया इनकार….. भाभी ने की आत्महत्या और अब देवर को हुई 7 साल की सजा

Advertisement

(उज्वल तिवारी) : पेंड्रा। गौरेला पेंड्रा मरवाही जिले में प्रेम संबंध के बाद भाभी से शादी से इंकार करने पर भाभी ने आत्महत्या कर ली थी। जिस मामले में आरोपी देवर को आत्महत्या के लिये प्रेरित (मजबूर) करने के आरोप में एडीजे गौरेला ने सात साल के सश्रम कारावास की सजा सुनायी है।

Advertisement

पूरा मामला गौरेला पेंड्रा मरवाही जिले के थाना मरवाही का है। जहां दिनाँक 13 मार्च 2022 को मालाडाँड़ निवासी जानकी मार्काे ने अपने घर के अंदर अपनी साड़ी से फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली थी। जांच के दौरान मृतका के मृत्यु के संबंध में संदेहास्पद स्थिति पाई गई । जांच में पाया गया कि मृतिका जानकी बाई का करगी कला में रहने वाले,रिश्ते में देवर चंद्रशेखर के साथ प्रेम संबंध था और 19 फरवरी की रात में जानकीबाई के द्वारा चंद्रशेखर से मोबाइल पर बात करते हुए उसके पति भवन सिंह के द्वारा पकड़ लिया गया था। जिसके बाद जानकी अपने देवर चंद्रशेखर के साथ घर से चली गई थी। बाद में चंद्रशेखर के साथ अपने मायके जाकर अपनी मां को बताई कि चंद्रशेखर अब उसे नहीं रख रहा है। और परेशान कर रहा है‌। चंद्रशेखर उसका घर को बर्बाद कर दिया है। उसके जीने की इच्छा समाप्त हो गई है ।

Advertisement

जानकी की मां द्वारा उसे समझाने के बाद सब रात को सो गए थे। सुबह उसकी मां उर्मिला बाई ने देखि कि जानकी बाई ने घर अंदर अपने साड़ी से फाँसी लगा ली थी। आरोपी चंद्रशेखर के द्वारा मृतिका जानकीबाई को आत्महत्या के लिए उत्प्रेरण करना पाए जाने पर थाना मरवाही में अपराध कायम कर आरोपी चंद्रशेखर मार्काे को गिरफ्तार कर लिया गया।

इस मामले में एडीजे गौरेला किरण थवाईत ने इस मामले में फैसला सुनाते हुये आरोपी चंद्रषेखर को सात साल के कठोर कारावास की सजा सुनाई है। वहीं दो हजार रूपये का अर्थदंड की सजा भी दी गयी है। इस मामले में शासन की ओर से पैरवी अतिरिक्त लोक अभियोजक पंकज नगाईच ने की।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button