play-sharp-fill
छत्तीसगढ़

शांति की अपील नहीं करने वाले भाजपाई बिरनपुर अशांति फैलाने गये थे – कांग्रेस

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : रायपुर :  भाजपा नेताओं के बिरनपुर जाने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये कांग्रेस ने कहा कि भाजपा के एक भी नेता ने बिरनपुर की घटना के बाद शांति की अपील नहीं किया है। सारे के सारे लोग तनाव बढ़ाने आग में घी डालने का काम किये है। अब यह लोग वहां जाकर षड़यंत्रपूर्वक माहौल खराब करना चाह रहे है।

Advertisement

भाजपा का चरित्र गिद्ध के समान हो गया है। जिस प्रकार से गिद्ध लाशों पर मंडराता है, वही स्थिति भाजपा की है। कोई भी अप्रिय घटना होने पर भाजपा वहां राजनैतिक फायदा तलाशने लगती है। घटना के बाद अब स्थिति शांतिपूर्ण हो गयी है। भाजपा के नेता वहां क्यों गये थे? उनके वहां जाने का आशय पूरा प्रदेश समझ रहा है।

Advertisement

प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भाजपा और आरएसएस ने एक गांव की घटना को पूरे प्रदेश में विस्तारित करने के लिये भरसक प्रयास किया, बंद करवाया गया, लोगों को भड़काने के लिये भाजपा के छोटे-बड़े नेता सोशल मीडिया पर भड़काऊ और उत्तेजक पोस्ट डाला, धर्म विशेष के खिलाफ लोगों में जहर घोलने की तमाम कोशिशें भाजपा नेताओं के द्वारा किया गया। जब उसमें कामयाब नहीं हुये तो माहौल खराब करने सामूहिक रूप से बिरनपुर पहुंच गये।

प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि घटना को लेकर पुलिस और प्रशासन ने पूरी मुस्तैदी दिखाते हुए शांति व्यवस्था को बहाल किया है। दोषियों को चिन्हांकित कर उन पर कड़ी कार्यवाही की गई है, सभी अपराधी गिरफ्तार भी किये गये है। घटना विशेष के आधार पर पूरे प्रदेश में अशांति फैलाने की कोशिशों को कदापि भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। माहौल खराब करने की कोशिश में विपक्ष के प्रभावशाली नेता लगे है। यह प्रदेश की जनता देख रही है और समझ रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button