देश

सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में दिल्‍ली पुलिस को बड़ी सफलता, माड्यूल हेड सहित दो शूटर गिरफ्तार…..

नई दिल्ली – सिद्धू मूसेवाला की हत्या के मामले में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने तीन आरोपितों को गिरफ्तार किया है। इनमें माड्यूल हेड और दो शूटर शामिल है। पुलिस ने इन तीनों को गुजरात के कच्छ इलाके से गिरफ्तार किया है। इनके पास से बड़ी मात्रा में असलहे भी बरामद किए गए हैं। फिलहाल पुलिस इन तीनों से पूछताछ कर रही है और हत्या से जुड़ी अन्य जानकारियां जुटा रही है।

Advertisement

एच.जी.एस. धालीवाल, स्पेशल CP, स्पेशल सेल, दिल्ली ने बताया कि इनके पास से अंडर बैरल ग्रेनेड लॉन्चर के साथ 8 हाई एक्सप्लोसिव ग्रेनेड मिले हैं। यह ग्रेनेड लॉन्चर AK-47 पर भी लगाया जा सकता है। 9 इलेक्ट्रॉनिक डेटोनेटर, एक असॉल्ट राइफल, 20 राउंड के साथ मिला है। इसके अतिरिक्त 3 पिस्तौल और 36 राऊंड गोला बारूद मिले हैं।

Advertisement

उन्होंने बताया कि हमने 6 शूटरों की पहचान की है। इसमें 2 मोड्यूल शामिल थे जिनका सीधा संपर्क गोल्डी बराड़ से है। मनप्रीत मन्नू ने सिद्धू मूसेवाला पर पहले गोली चलाई और बाद में 6 लोगों ने इन पर गोली चलाई। स्पेशल सेल की टीम ने इनको 19 जून को गिरफ़्तार किया।

Advertisement

गिरफ्तार किए गए शूटरों में प्रियव्रत उर्फ फौजी सोनीपत के गाढ़ी सिसाना का रहने वाला है। दूसरा कशिश उर्फ कुलदीप वार्ड नंबर 11 साजयान पाना, गांव बेरी, झज्जर का रहने वाला है। कशिश साल 2021 में हरियाणा के झज्जर की हत्या के एक मामले में वांछित था। तीसरा केशव कुमार मकान नंबर 11385, गली नंबर 1, आवा बस्ती भटिंडा, पंजाब का रहने वाला है।

प्रियव्रत ने ही शूटरों की टीम का नेतृत्व किया, वो घटना के समय गोल्डी बरार के सीधे संपर्क में था। हत्याकांड को अंजाम देने के बाद प्रियव्रत ने ही गोल्डी को इसकी सूचना दी उसके बाद साथियों के साथ दूसरे राज्यों के लिए निकल गया था। ये पहले दो हत्या के मामलों में शामिल रहा है। साल 2015 में सोनीपत के एक हत्या मामले में गिरफ्तार हुआ था और 2021 में सोनीपत के एक हत्या मामले में वांछित चल रहा था।

वहीं, कशिश उर्फ कुलदीप हरियाणा झज्जर के सज्यान पाना ग्राम बेरी का रहने वाला है। वह भी इस हत्याकांड में शामिल था और पेट्रोल पंप के सीसीटीवी कैमरों की फुटेज में साफ तौर पर देखा गया था।

पुलिस ने बताया कि आरोपित साल 2021 में हत्या के एक मामले में वांछित है। तीसरा आरोपित केशव कुमार पंजाब के भटिंडा का रहने वाला है। केशव भी हत्या के एक मामले में वांछित चल रहा है और पुलिस को उसकी काफी लंबे समय से तलाश थी।

बता दें कि 29 मई को मानसा के गांव जवाहरके में गैंगस्टरों ने महिंद्रा थार में जा रहे सिद्धू मूसेवाला को घेरकर उन पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दी थी। गोलियों से छलनी मूसेवाला को मानसा सिविल अस्पताल ले जाया गया, जहां डाक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया था। उसी के बाद गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने इस हत्या की जिम्मेदारी लेते हुए इंटरनेट मीडिया पर पोस्ट किया था।

Advertisement

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button