औरंगाबाद से घर लौट रहे मध्यप्रदेश के 17 मजदूर मालगाड़ी से कटे

229

औरंगाबाद। महाराष्ट्र के औरंगाबाद में पटरी पर सोए प्रवासी मजदूरों के ऊपर से मालगाड़ी गुजरने से 17 की मौत हो गई है। मरने वालों में मजदूरों के बच्चे भी शामिल है। मरने वाले सभी मध्यप्रदेश के रहने वाले हैं। घटना शुक्रवार तड़के करमाड पुलिस स्टेशन थाने के अंतर्गत की है। घटना करमाड के नजदीक हुई। खाली मालगाड़ी प्रवासी मजदूरों के ऊपर से गुजर गई। घायलों को औरंगाबाद सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बताया जा रहा है कि प्रवासी मजदूर रेल की पटरियों पर सोये और अचानक उनके ऊपर मालगाड़ी गुजर गई। नींद में होने की वजह से किसी को भी संभलने का मौका नहीं मिला।
थककर ट्रैक पर ही सो गए थे मजदूर
सभी मजदूर एक स्टील फैक्ट्री में काम करते थे। हादसा बदनापुर और करमाड के बीच हुआ। सभी मजदूर औरंगाबाद से गांव जानेवाली ट्रेन पकड़ने के लिए जालना से औरंगाबाद पैदल जा रहे थे। रात अधिक होने के चलते सभी ने सटाना शिवार इलाके में पटरी पर ही अपना बिस्तर लगा लिया। सुबह इसी पटरी से एक माल गाड़ी गुजरी और मजदूर उसकी चपेट में आ गए।

प्रधानमंत्री ने जताया दुख
घटना को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुख जताया है। उन्होंने लिखा, महाराष्ट्र के औरंगाबाद में रेल हादसे में जानमाल के नुकसान से बेहद दुखी हूं। मैंने रेल मंत्री पीयूष गोयल से बात की है और वह करीब से स्थिति पर नजर रख रहे हैं। आवश्यक हर संभव सहायता प्रदान की जा रही है।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here