बिलासपुर

UPDATE : 3 घंटे की मशक्कत और काबू में आया.. कानन से भागा भालू

Advertisement

(भूपेंद्र सिंह राठौर) : बिलासपुर – शुक्रवार की सुबह लगभग 11.30 से 12 के मध्य एक नर भालु ( मंगल ) क्यारंटाईन केज के गेट से बाहर निकल गया जिसकी तत्काल सुचना जू कीपर द्वारा कानन प्रबंधन को दिया गया। कानन प्रबंधन द्वारा तत्काल पर्यटकों की सुरक्षा सुनिश्चित करते हुए कानन के दोनो प्रवेश द्वार को बंद कराया गया एंव कानन पेण्डारी जू में उपलब्ध पशुचिकित्सक एवं रेस्कुल टीम के सदस्यों द्वारा उक्त नर भालु को रेस्कुय किया गया ।

Advertisement

नर भालु से कानन पेण्डारी जू में भ्रमण करने आये एक पर्यटक ( ओमप्रकाश बंजारे निवासी भटगांव , बिलाईगढ़ ) को मामुली खरोंच आयी। जिसका तत्काल प्राथमिक उपचार कानन पेण्डारी जू में किया गया । पर्यटक को कोई भी गंभीर जख्म नहीं हुआ ।

Advertisement

प्राथमिक उपचार के पश्चात पर्यटक कानन जू का भ्रमण कर सकुशल वापस चला गया रेस्कुय कार्य सफलतापूर्वक पूर्ण होने के पश्चात कानन जू को पुनः पर्यटकों हेतु खोल दिया गया ।

उक्त नर भालु ( मंगल ) को दिनांक 7.03.2021 को लगभग 2 माह की उम्र में मरवाही वनमंडल से रेस्कुय कर कानन पेण्डारी जू लाया गया था। प्रथम दृष्टया में इस घटना का कारण जूकीपर द्वारा उक्त नर भालु केज के गेट में ताला को सुनिश्चित ढंग से नहीं लगा पाना प्रतित होता है जिसकी जाँच कानन प्रबंधन द्वारा किया जा रहा है। उक्त घटना के लिए पाये गये दोषी के खिलाफ कड़ी कार्यवाही किया जायेगा।

बाईट – विजय कुमार साहू, रेंजर कानन जु

Advertisement

बता दे कि जो भालू रेस्क्यू सेंटर से भाग था उसे मरवाही से रेस्क्यू कर लाया गया था,जब इसे कानन लाया गया तो उसकी उम्र एक माह की थी,वही अब यह एक साल दो माह का हो गया। पर्यटकों की किस्मत अच्छी रही कि समय रहते ही भालू का रेस्क्यू कर दिया गया।लेकिन जु की यह बड़ी लापरवाही एक बार फिर से सामने आ गई।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button