play-sharp-fill
देश

मोदी के खिलाफ पोस्टर पर क्यों घिर गई आम आदमी पार्टी…? पुलिस ने क्यों 10,000 पोस्टर सहित जप्त की वैन


(शशि कोन्हेर) : पीएम मोदी के खिलाफ दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में लगाए गए आपत्तिजनक पोस्टर्स को लेकर दिल्ली पुलिस ऐक्शन में है। पुलिस ने 100 एफआईआर दर्ज करते हुए 6 लोगों को गिरफ्तार किया है। रात के अंधेरे में चोरी-छिपे लगाए गए इन पोस्टर्स से दिल्ली की सत्ताधारी आम आदमी पार्टी (आप) का कनेक्शन जुड़ता दिख रहा है। पुलिस ने आम आदमी पार्टी के दफ्तर से निकली एक वैन को भी जब्त करने की बात कही है, जिसमें 10 हजार पोस्टर बरामद किए गए हैं। प्रिंटिंग प्रेस और छपवाने वाले की सूचना दिए बिना छापे गए इन पोस्टर्स को लेकर प्रिंटिंग प्रेस ऐक्ट और सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के खिलाफ कानून के तहत कार्रवाई की गई है। पुलिस के ताबड़तोड़ ऐक्शन से भड़की ‘आप’ ने इसे तानाशाही बताते हुए पूछा है कि एक पोस्टर से ऐसा डर क्यों?

Advertisement

दिल्ली में लगाए गए पोस्टर में लिखा है, ‘मोदी हटाओ, देश बचाओ।’ यूं तो राजनीतिक दल एक दूसरे के खिलाफ पोस्टर लगाते रहे हैं, लेकिन नियम के मुताबिक, पोस्टर छापने और लगवाने वाले का नाम सार्वजनिक करना आवश्यक होता है। इस नियम का पालन नहीं किया गया है। पुलिस के ताबड़तोड़ ऐक्शन के बाद ‘आप’ ने अपने सोशल मीडिया हैंडल से भी इस पोस्टर को साझा किया है। पुलिस की कार्रवाई को मोदी सरकार की तानाशाही बताते हुए कहा गया है कि भारत एक लोकतांत्रिक देश है।

Advertisement

‘आप’ ने कहा मोदी सरकार की तानाशाही चरम पर है। इस पोस्टर में ऐसा क्या आपत्तिजनक है जो इसे लगाने पर मोदी जी ने 100 F.I.R. कर दी? पीएम मोदी , आपको शायद पता नहीं पर भारत एक लोकतांत्रिक देश है। एक पोस्टर से इतना डर! क्यों? ‘आप’ के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने भी पोस्टर को साझा करते हुए लिखा, ‘मोदी सरकार तानाशाही के चरम पर है। ये वो पोस्टर है जिस पर 100 FIR हो गई। हद हो गई।’ पार्टी ने कल जंतर-मंतर पर प्रदर्शन का भी फैसला किया है। सूत्रों के मुताबिक, दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान भी इसमें शामिल होंगे।

Advertisement

इन पोस्टर्स को दिल्ली के अलग-अलग हिस्सो में लगाया गया है। अब एक तरफ पुलिसकर्मी अब इन पोस्टर्स को हटाने में जुटे हैं तो दूसरी तरफ धड़पकड़ शुरू कर दी गई है। दिल्ली पुलिस के स्पेशल सीपी दीपेंद्र पाठक ने कहा कि आपत्तिजनक पोस्टर लगाए जाने की वजह से 100 एफआईआर दर्ज किए गए हैं और 6 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। दिल्ली के अलग-अलग जिलों में केस दर्ज किए गए हैं। स्पेशल सीपी ने बताया कि आम आदमी पार्टी के दफ्तर से निकलते ही एक वैन को भी रोका गया। इसमें उन्हीं पोस्टर्स को बरामद भी किया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button