देश

लालू और नीतीश की पार्टी के विलय की खबरों पर क्यों भड़के उपेंद्र कुशवाहा..?

(शशि कोन्हेर) : बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंगलवार को ऐलान कर दिया कि साल 2025 का विधानसभा चुनाव उनकी पार्टी यानी जनता दल यूनाइटेड लालू प्रसाद  के छोटे बेटे तेजस्वी यादव के नेतृत्व में लड़ेगी। इसी के साथ जदयू  और राजद के विलय को लेकर भी अटकलों का बाजार गर्म हो गया। अब इस बीच जदयू संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने कहा है कि लोगों को सोचना चाहिए कि राजद और जदयू का विलय कैसे हो सकता है।

Advertisement


उपेंद्र कुशवाहा ने विलय की अटकलों को खारिज करते हुए कहा कि विलय की कोई बात नहीं है। जदयू का विलय आत्मघाती होगा। क्या कोई अपने लिए आत्मघाती कदम उठाता है? इसमें कोई सच्चाई नहीं है। कोई विलय नहीं होगा।

Advertisement


वहीं, एक निजी समाचार चैनल से उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि राजद से विलय के बाद जदयू का अस्तित्व ही खत्म हो जाएगा। जदयू का जन्म ही हुआ था गरीब-गुरबा के लिए। उन्होंने कहा कि अभी जदयू का पूरा ध्यान 2024 के लोकसभा चुनाव पर है। लोकसभा का चुनाव हम नीतीश कुमार के नेतृत्व में लड़ेगे। इसलिए अभी विधानसभा चुनाव की नहीं, बल्कि 2024 के लोकसभा चुनाव की बात होनी चाहिए। 2025 की बात अभी कहां है?

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button