देश

कौन थे तुषार महाजन, जिनके नाम पर होगा जम्मू-कश्मीर का उधमपुर रेलवे स्टेशन

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : जम्मू कश्मीर का उधमपुर रेलवे स्टेशन का नाम शहीद कैप्टन तुषार महाजन के नाम पर होगा। अधिकारियों ने इस बात की जानकारी शुक्रवार को दी। कैप्टन तुषार महाजन 9 पैरा के अधिकारी थे। फरवरी 2016 में दक्षिणी कश्मीर के पुलवामा जिले में आतंकियों से मुठभेड़ के दौरान वह शहीद हो गए थे।

Advertisement

यह आतंकी हमला जम्मू कश्मीर उद्यमिता विकास संस्थान (जेकेईडीआई) भवन पर हुआ था। कैप्टन तुषार सेना के जवानों की रक्षा करते हुए एक आतंकवादी को मारने के बाद वीरगति को प्राप्त हुए थे।

Advertisement

मंत्री ने की थी घोषणा
अधिकारियों ने बताया कि लेफ्टिनेंट गवर्नर के दफ्तर द्वारा औपचारिक अप्रूवल मिलने के बाद स्टेशन का नाम बदल गया। सामान्य प्रशासन विभाग (जीएडी) के आयुक्त सचिव संजीव वर्मा ने गुरुवार शाम यहां जारी एक आदेश में कहा कि जम्मू-कश्मीर के उधमपुर जिले में ‘उधमपुर रेलवे स्टेशन’ का नाम ‘शहीद कैप्टन तुषार महाजन रेलवे स्टेशन’ रखने को मंजूरी दी जाती है।

अधिकारियों ने बताया कि गृह मंत्रालय ने छह सितंबर को उधमपुर रेलवे स्टेशन का नाम बदलने को मंजूरी दी थी। लोकसभा में कठुआ-उधमपुर संसदीय क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करने वाले केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने छह सितंबर को एक ट्वीट के माध्यम से इस फैसले की घोषणा की थी। स्टेशन का नाम बदलने की मांग उधमपुर के लोगों ने केंद्र सरकार से की थी।

बचपन से था देश सेवा का जज्बा
कैप्टन तुषार महाजन (शौर्य चक्र) की जीवन कहानी अटूट समर्पण और बलिदान में से एक है। वह भारतीय सेना की विशेष बल इकाई 9 PARA के एक अधिकारी थे। उधमपुर के प्रसिद्ध शिक्षाविद् और सेवानिवृत्त प्रिंसिपल देव राज गुप्ता और आशा रानी के घर जन्मे कैप्टन महाजन ने बचपन से ही रक्षा बलों में शामिल होने और अपने देश की रक्षा करने का सपना देखा था।जम्मू कश्मीर के पंपोर में आतंकियों से लड़ते हुए शहीद हुए कैप्टन तुषार महाजन बचपन से ही सेना में जाकर देश की सेवा और देश के दुश्मनों को धूल चटाना चाहते थे। शहीद कैप्टन तुषार महाजन का परिवार जम्मू के उधमपुर में रहता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button