देश

क्या ज्योतिष की सलाह का इंतजार कर रहे मोदी? नूंह-मणिपुर हिंसा पर ममता कहा

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : हरियाणा के मेवात-नूंह में सांप्रदायिक हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है। एक तरफ सरकार दंगाई पर नकेल कसने के लिए लगातार ठोस कदम उठा रही है। दूसरी तरफ विपक्ष बीजेपी सरकार को लगातार निशाना बना रही है। इस बीच पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घेरा है।

Advertisement

उन्होंने कहा कि अगर बंगाल में छोटा मामला भी होता है, वो भी बीजेपी के अत्याचार के कारण तो वे केंद्रीय टीम भेज देते हैं। लेकिन, उनके राज्यों में कुछ होता है तो सब माफ। मैंने सुना है कि वे 10 अगस्त को मणिपुर मुद्दे पर बोलेंगे। क्या वे किसी ज्योतिष की सलाह पर अपनी बात बोलने का इंतजार कर रहे हैं। यह एक बेहद जरूरी मुद्दा है। इस मामले में उन्हें चुप नहीं रहना चाहिए।

Advertisement

हरियाणा के मेवात और नूंह में जारी सांप्रदायिक हिंसा को लेकर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की सरकार घिर गई है। हालांकि उन्होंने यह बयान देकर राज्य की आबादी 2.7 करोड़ है और पुलिस की संख्या 60 हजार ऐसे में हर व्यक्ति की सुरक्षा नहीं की जा सकती। विपक्ष हरियाणा की बीजेपी सरकार पर लगातार हमलावर है। इस बीच पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने पीएम मोदी पर निशाना साधा है।

उनका कहना है, ”…बंगाल में अगर कोई छोटा सा भी मामला होता है, वह भी बीजेपी के उकसावे और अत्याचार के कारण – वे बाहर से गुंडों को किराए पर लेते हैं और एक गेमप्लान तैयार करते हैं – तो आप इसे बदनाम करने के लिए बंगाल में एक केंद्रीय टीम भेजते हैं। ..लेकिन जब उनके राज्यों (बीजेपी शासित राज्यों) में कुछ होता है तो उन्हें माफ कर दिया जाता है…आज हर कोई कह रहा है कि जब पीएम मोदी देश से बाहर जाते हैं तो कहते हैं ‘हम सबके लिए हैं’ लेकिन जब अंदर कुछ होता है देश, आप कुछ नहीं बोलते।”

ज्योतिष की सलाह के इंतजार में हैं मोदी?
ममता बनर्जी ने आगे कहा, “मैंने अखबार में पढ़ा कि वह 10 अगस्त को (मणिपुर पर) बोलेंगे। क्या यह ज्योतिष के हिसाब से है? यह एक जरूरी मुद्दा है… हर मामले में, इसलिए इसके लिए समय नहीं देखा जाना चाहिए।”

गौरतलब है कि हरियाणा के मेवात और नूंह में सांप्रदायिक हिंसा के दौरान 6 लोगों की मौत हो चुकी है। इसमें दो होमगार्ड्स और 4 आम नागरिक शामिल हैं। जबकि 20 लोग घायल हैं। राज्य के कई संवेदनशील स्थानों पर इंटरनेट पर पाबंदी लगा दी गई है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button