बिलासपुर

हीराकुंड एक्सप्रेस से कहां खपाने ले जा रहे थे 30 बोतल ब्रांडेड शराब…और फिर…


(भूपेंद्र सिंह राठौर के साथ राजा खान) : बिलासपुर – आरपीएफ व जीआरपी की संयुक्त टीम ने हीराकुंड एक्सप्रेस से दो आरोपियों को 30 बोतल ब्रांडेड शराब के साथ गिरफ्तार किया. जप्त शराब की कीमत जानकर पुलिस भी चौंक गई. इससे पता लगा हैं कि ट्रेनों में गांजा के अलावा शराब का अवैध परिवहन किया जा रहा है.

Advertisement

अमृतसर से विशाखापत्तम जा रही हीराकुंड एक्सप्रेस में शराब की तस्करी करने की सूचना मिलते ही आरपीएफ और जीआरपी सतर्क हो गई. जानकारी पुख्ता होने के बाद ट्रेन के बिलासपुर रेलवे स्टेशन पहुंचने का इंतजार किया। जैसे ही ट्रेन रेलवे स्टेशन पहुंची। रेलवे के दोनों सुरक्षा विभाग ने योजनाबद्ध तरीके से तस्करों को पकड़ने की तैयार की। कुछ स्टाफ ट्रेन के दूसरे छोर में तैनात था वहीं कुछ प्लेटफार्म में सतर्क हो गए। ताकि आरोपी भाग न सके। वहीं टीम के कुछ सदस्य ट्रेन के जनरल कोच में दाखिल हुए।

Advertisement

सूचना के अनुसार इसी कोच में दो तस्कर शराब के साथ सफर कर रहे थे. हालांकि इससे पहले बिलासपुर रेलवे स्टेशन में प्लेटफार्म , वेटिंग हाल और यात्री परिसर में जांच की गई। इधर जनरल कोच में बैठे दो संदिग्ध यात्रियों से टीम के जवानों ने पूछताछ की। उनके पास ट्राली और पिट्ठू बैग था, जो भारी था। इस दौरान सबसे पहले सामान्य पूछताछ की गई।

Advertisement

हत्थे चढ़े आरोपियों में से एक ने अपना नाम विनय सिंह (50) निवासी नवीनगर थाना औरगाबाद बताया। उसके पास रखे बैगनी रंग के ट्राली बैग से अंग्रेजी शराब मिली। वहीं दूसरे ने अपना नाम उपेंद्र सिंह (50) बताया। यह सुभाष नगर नहर पारा महासमुंद का निवासी है। इसके पास से ट्राली बैग से भी बड़ी मात्रा में शराब जब्त हुई। कुल 30 बोतल शराब की कीमत पौने दो लाख जानकर जीआरपी के जवान चौंक उठे. जीआरपी थाने में दोनों पर आबकारी एक्ट की धारा -34(2) में मामला पंजीबद्ध किया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button