देश

अशोक गहलोत के कांग्रेस अध्यक्ष पद की रेस से बाहर होने पर भाजपा ने किया क्या तंज..?

(शशि कोन्हेर)/: अशोक गहलोत के कांग्रेस अध्यक्ष पद की दौड़ से हटने पर प्रतिक्रया व्यक्त करते हुए भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने गुरुवार को कहा कि यह कभी भी चुनाव नहीं था, बल्कि सबसे सुविधाजनक रिमोट कंट्रोल का चयन था। पूनावाला ने कहा, ‘चूंकि गहलोत, जो अब तक भरोसेमंद वफादार थे।

Advertisement

ने रविवार को जयपुर में परिवार के साथ बेवफाई की थी इसलिए वह अब कांग्रेस अध्यक्ष बनने के योग्य नहीं हैं। यह साबित करता है कि यह कभी भी स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव नहीं था, बल्कि सबसे सुविधाजनक दरबारी का चयन था जो गांधी परिवार के लिए रिमोट कंट्रोल बन सके।

Advertisement

चुटकी लेते हुए उन्होंने कहा, ‘गुस्ताख-ए-परिवार की एक ही सजा, गहलोत अध्यक्ष से जुदा।’ भाजपा प्रवक्ता ने कहा, पी. चिदंबरम ने सब कुछ उजागर कर दिया था जब उन्होंने कहा था कि अगला अध्यक्ष जो भी होगा, गांधी परिवार का एक प्रमुख स्थान होगा। दिग्विजय सिंह के मैदान में उतरने के बारे में उन्होंने कहा कि गहलोत की जगह लेने के लिए नया डमी उम्मीदवार चुना जाएगा।

Advertisement

भाजपा नेता अमित मालवीय ने भी कहा कि गहलोत ने अपना सीएम पद बरकरार रखा, एक रिमोट नियंत्रित कांग्रेस अध्यक्ष होने की शर्मिंदगी से खुद को बचाया, सचिन पायलट को फिर रोक दिया, राजस्थान में कांग्रेस को तोड़ने और 2023 में चुनाव लड़ने का विकल्प खुला रखा और सोनिया की अजेयता की आभा को तोड़ दिया।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button