देश

देश के राष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदान आज…तय मानी जा रही द्रौपदी मुर्मू की जीत

(शशि कोन्हेर) : देश के 15वें राष्ट्रपति के चुनाव के लिए तैयारियां पूरी हो गई हैं और सोमवार को संसद भवन व राज्यों की विधानसभाओं में इसके लिए वोट डाले जाएंगे। देशभर के करीब 4,800 विधायक और सांसद राष्ट्रपति चुनाव में वोट डालेंगे।

Advertisement

वोटों के गणित में पक्ष और विपक्ष के बीच बने बड़े फासले को देखते हुए राजग उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू का देश की अगली राष्ट्रपति चुना जाना तय है। वह आदिवासी समुदाय की देश के शीर्ष संवैधानिक पद पर पहुंचने वाली पहली शख्सियत होंगी।

Advertisement

विपक्षी कुनबे का बिखराव नहीं रोक पाए सिन्‍हा
विपक्ष के साझा उम्मीवार यशवंत सिन्हा ने प्रचार अभियान को पूरे जोर-शोर से जारी जरूर रखा मगर चुनाव निकट आने के साथ ही वह विपक्षी कुनबे के वोटों के बिखराव को रोक नहीं पाए।

Advertisement

सुबह 10 बजे से शाम छह बजे तक मतदान
राष्ट्रपति चुनाव के लिए संसद भवन परिसर और राज्य विधानसभाओं में मतदान सुबह 10 बजे से शाम छह बजे तक होगा। संसद भवन परिसर में मानसून सत्र के शुरू होने से पहले ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और सरकार के तमाम वरिष्ठ मंत्री व सांसद ही नहीं, विपक्ष के नेता-सांसद भी अपने वोट डालेंगे।

कई दलों का समर्थन
राष्ट्रपति चुनाव में राजग उम्मीदवार मुर्मू को सत्ताधारी गठबंधन के अलावा बीजद, वाईएसआर कांग्रेस, अकाली दल ही नहीं विपक्षी खेमे के कई दलों जैसे जदएस, झामुमो, शिवसेना और तेदेपा का समर्थन भी मिला है। इससे साफ है कि द्रौपदी मुर्मू को करीब दो तिहाई मत मिलने की संभावना है। जबकि विपक्ष के साझा उम्मीदवार यशवंत सिन्हा के लिए स्थिति चुनौतीपूर्ण नजर आ रही है।

21 को मतगणना और 25 को शपथग्रहण
राष्ट्रपति चुनाव के लिए सोमवार को होने वाले मतदान के बाद सभी राज्यों से मत पेटियां दिल्ली लाई जाएंगी और 21 जुलाई को वोटों की गिनती के बाद देश के नए राष्ट्रपति के निर्वाचन की घोषणा कर दी जाएगी। राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द का कार्यकाल 24 जुलाई की मध्य रात्रि को समाप्त हो रहा है और 25 जुलाई को नए राष्ट्रपति का शपथ ग्रहण होगा।

सांसदों के वोट मूल्‍य में गिरावट
राष्ट्रपति चुनाव में एक सांसद के वोट का मूल्य 700 है जो पिछले चुनाव के 708 के मुकाबले कम हुआ है। जबकि अलग-अलग राज्यों में जनसंख्या के हिसाब से विधायकों के वोटों का मूल्य अलग-अलग है।

यूपी के विधायकों का मत मूल्य सबसे अधिक
उत्तर प्रदेश के एक विधायक के वोट का मूल्य सबसे अधिक 208 है। इसके बाद झारखंड और तमिलनाडु के विधायकों के मत का मूल्य 176 है, तो महाराष्ट्र के विधायकों के वोट का मूल्य 175 है। सिक्किम के एक विधायक के वोट का मूल्य केवल सात है जो पूरे देश में सबसे कम है। मालूम हो कि देश की पहली महिला राष्ट्रपति होने का गौरव प्रतिभा पाटिल को हासिल है जो 2007 में शीर्ष संवैधानिक पद के लिए चुनी गईं थीं।

Advertisement

मुर्मू को 6,67,000 मत मूल्य मिलने की संभावना
इस चुनाव में मतों का कुल मूल्य 10,86,431 है जिनमें मुर्मू को 6,67,000 मत मूल्य मिलने की संभावना है। मालूम हो कि देश की पहली महिला राष्ट्रपति होने का गौरव प्रतिभा पाटिल को हासिल है जो 2007 में शीर्ष संवैधानिक पद के लिए चुनी गईं थीं।

Advertisement

राजग की तैयारी बैठक में चिराग पासवान भी हुए शामिल

लोक जनशक्ति पार्टी (राम विलास) के नेता चिराग पासवान ने रविवार को राष्ट्रपति चुनाव की तैयारियों पर राजग की बैठक में हिस्सा लिया। इसे एक महत्वपूर्ण घटनाक्रम माना जा रहा है क्योंकि 2020 के बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान वह सत्तारूढ़ गठबंधन से अलग हो गए थे। हालांकि, चिराग ने स्पष्ट किया कि बैठक में हिस्सा लेने का यह मतलब नहीं है कि वह फिर से राजग का हिस्सा बन गए हैं। इस बैठक में वह इसलिए शामिल हुए क्योंकि वह राष्ट्रपति पद के लिए द्रौपदी मुर्मू का समर्थन कर रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button