play-sharp-fill
बिलासपुर

झाड़ियों से घिरा ट्रांसफार्मर, सांप देखकर डरे बिजली कर्मी…..



भूपेंद्र सिंह राठौर) : बिलासपुर। कुदुदंड सिंचाई कालोनी में सुबह छह बजे लो वोल्टेज की समस्या हो गई। सूचना के बाद पहुंचे बिजली कर्मियों को सुधार में करीब एक घंटे लग गए। दरअसल ट्रांसफार्मर झाड़ी- झंगर से घिरा हुआ था। कर्मचारी ट्रांसफार्मर के करीब पहुंचे तो उनकी नजर सांप पर पड़ी। इससे वह दहशत में आ गए। सुधार से पहले झाड़ियों की कटाई – छटाई की गई। इसके बाद सुधार हुआ, तब जाकर रहवासियों को राहत मिली।

Advertisement


ट्रांसफार्मर, सब स्टेशन यहां बिजली खंभे का यही हाल है। कटाई- छटाई व सफाई नहीं होने के कारण इसके चारों तरफ झाड़ी- झंगर हो गए है। इसके चलते अब जहरीले जीव- जंतु भी वहां रेंगते नजर आते हैं। यह मेंटेनेंस नहीं होने का नतीजा है। सिंचाई कालोनी में भी लगे एक ट्रांसफार्मर के आसपास इसी तरह की अव्यवस्था नजर आई। जिसके कारण सुधार करने में कर्मचारियों को दिक्कत हुई। वैसे तो कालोनी की नियमित सफाई व अन्य मेंटेनेंस सिंचाई विभाग की जिम्मेदारी है। लेकिन, विभाग इस पर ध्यान नहीं देता। यहीं कारण है कि आए दिन कालोनी के घरों में सांप, बिच्छु रेंगते नजर आते हैं।

Advertisement

सोमवार को सुबह इस ट्रांसफार्मर में तकनीकी खराबी आई और अधिकांश घरों में वोल्टेज की समस्या होने लगी। परेशान कालोनीवासियों ने तत्काल इसकी सूचना फ्यूज काल सेंटर को दी। लेकिन, हमेशा की तरह फोन रिसीव नहीं हुआ। बड़ी मुश्किल से अधिकारी को काल कर समस्या बताई गई। इसके बाद सुधार दल करीब दोपहर 12 बजे पहुंचा। लेकिन, सुधार से पहले ट्रांसफार्मर के चारो तरफ उगे झाड़ी – झंगर के कारण उन्हें सुधार करने में दिक्कत होने लगी। इसलिए कर्मचारियों ने पहले यहां की सफाई की। इसके बाद सुधार कार्य प्रारंभ किया। इसमें उन्हें करीब एक घंटे लग गए। दोपहर एक बजे बिजली सप्लाई सुचारू हुई।

Advertisement


सिंचाई कालोनी के निवासियों को करीब सात घंटे बाद बिजली की समस्या से निजात मिली। सुबह छह बजे से लगातार सूचना देने का प्रयास कर रहे थे। इसके बाद भी सुधार दल नहीं पहुंचा। छह घंटे बाद पहुंचकर सुधार किया गया। बिजली बंद होने के कारण उन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ा।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button