छत्तीसगढ़

इस बार 30 मई को मनाया जाएगा गंगा दशहरा का त्यौहार, जानें शुभ मुहूर्त और महत्व

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : प्रत्येक साल जेष्ठ माह के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को गंगा दशहरा का त्यौहार मनाया जाता है। पौराणिक कथाओं के अनुसार माना जाता है कि मां गंगा का अवतरण इसी दिन धरती पर हुआ था। इस दिन श्रद्धालु गंगा में आस्था की डुबकी लगाते हैं और सुख समृद्धि का वरदान पाते हैं। बता दें कि इस साल गंगा दशहरा 30 मई को मनाया जाएगा। इस बार गंगा दशहरा के दिन ही तीन अत्यंत शुभ योग भी बन रहे हैं।

Advertisement

शुभ मुहूर्त
इस बार ज्येष्ठ माह की दशमी तिथि सोमवार 29 मई, 2023 को सुबह 11 बजकर 49 मिनट से शुरू होगी। जबकि 30 मई के दिन मंगलवार को दोपहर 1 बजकर 7 मिनट पर समाप्त होगी। उदया तिथि के अनुसार गंगा दशहरा का पर्व 30 मई को ही मनाया जाएगा।

Advertisement

गंगा दशहरा पर बन रहे तीन शुभ योग
साल 2023 में गंगा दशहरा पर तीन बड़े ही शुभ योग बन रहे हैं। इस दिन गंगा दशहरा पर रवि योग, सिद्धि योग और धन योग का संयोग बन रहा है। इसके अलावा, इस दिन सुखों के प्रदाता शुक्र भी कर्क राशि में गोचर करने वाले हैं। शुक्र के कर्क राशि में आने से ही धन योग का निर्माण होता है  ऐसे में इस बार गंगा दशहरा के पर्व का महत्व और भी बढ़ गया है।

10 हजार पापों से मिलती है मुक्ति
ऐसा माना जाता है कि गंगा दशहरा के दिन गंगा में डुबकी लगाने से 10 हजार पापों से मुक्ति मिलती है। मुख्य रूप से इसमें तीन प्रकार के पापों का नाश होता है। इसमें दैहिक, वाणी और मानसिक रूप से किए गए पाप धुल जाते हैं। गंगा में स्नान करते समय इस दिन ”ॐ नमो गंगायै विश्वरूपिण्यै नारायण्यै नमो नमः” मंत्र का जाप करना शुभ होता है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button