बिलासपुर

जिले के किसानों में खाद के लिए मचा हाहाकार…जिला पंचायत की बैठक में हुआ बवाल…

(भूपेंद्र सिंह राठौर) : बिलासपुर – रासायनिक खाद की कमी का मुद्दा जिला पंचायत के सभाकक्ष में गुरुवार को जमकर गुंजा। कृषि स्थाई समिति की बैठक में खाद की कमी को लेकर सभापति समेत सदस्यों ने भी कृषि विभाग के अधिकारियों को खूब खरी खोटी सुनाई।

Advertisement

छत्‍तीसगढ़ में रबी फसल के लिए रासायनिक खाद की किल्लत हो गई है। दूसरी ओर सहकारी सोसायटियों में पर्याप्त मात्रा में खाद नहीं होने के कारण किसान दर-दर भटकाने को मजबूर है। गांव से लेकर शहर तक खाद की जबरदस्त कालीबाजारी की जा रही है। किसान, मजबूरी में महंगे दाम में निजी दुकानों से खाद खरीद रहे हैं। इस बात को लेकर मस्तूरी क्षेत्र की जिला पंचायत सदस्य चांदनी भारद्वाज ने कृषि स्थाई समिति को बैठक में विभाग के अधिकारियों को जमकर खरी खोटी सुनाई।

Advertisement

गुरुवार को जिला पंचायत के सभाकक्ष में कृषि स्थाई समिति की बैठक सम्पन्न हुई, बैठक में जिला पंचायत अध्यक्ष अरुण सिंह चौहान ने अधिकारियों को जिले में खाद्य की कालाबाजारी रोकने और समितियों में जल्द खाद्य का भंडारण कराने की बात कही। इसके अलावा उन्होंने अधिकारियों को इसकी कमी को जल्द दूर करने को कहा। वही सभापति राजेश्वर भार्गव और अंकित गौरहा ने भी कृषि विभाग के अधिकारियों को कालाबाजारी के खिलाफ कार्यवाही करने की बात कही।

Advertisement

बता दें कि प्रदेश में समर्थन मूल्य पर धान खरीदी सात फरवरी को बंद हुई है। इस कारण कई सोसायटियों में खाद नहीं बांटा जा रहा है।इधर, अधिकारियों का कहना है कि सोसायटियों में खाद है, लेकिन जब बांटने की बारी आई तो खाद की कमी बताई जाने लगी।अब इस समस्या का समाधान जल्द नही किया गया तो किसान परेशान होते ही रहेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button