छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ से पहली ट्रेन सात फरवरी को दुर्ग से अयोध्या जाएगी..

Advertisement

(शशि कोंन्हेर) : रायपुर : अयोध्या में 22 जनवरी को होने वाले श्रीराम लला की प्राण प्रतिष्ठा समारोह से पूर्व देशभर में घर-घर में श्रीराम भक्ति की अलख जागी है। इसी क्रम में एक दैनिक समाचार पत्र के नेतृत्व में 17 जनवरी को सिविल लाइन स्थित वृंदावन हाल में श्रीरामोत्सव-सबके राम का आयोजन किया जा रहा है। दीप प्रज्ज्वलन और वैदिक मंत्रोच्चार के साथ श्रीरामोत्सव-सबके राम का शुभारंभ हुआ। मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय भी इस कार्यक्रम में शामिल हुए।

Advertisement


कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीएम साय ने कहा कि आज पूरी दुनिया राममय है। भगवान राम का ननिहाल छत्तीसगढ़ में भी उत्सव का माहौल है। राम मंदिर के लिए हमारे पुरखों ने लड़ाई लड़ी और अपनी बलिदानी दी। लंबे संघर्ष के बाद मंदिर निर्माण का रास्ता प्रशस्त हुआ। 22 जनवरी को छत्तीसगढ़ के चावल से बने भात से भगवान राम को भोग लगाया जाएगा। छत्तीसगढ़ सरकार रामलला दर्शन योजना चला रही है। इस योजना के माध्यम से प्रदेश के लोगों को अयोध्या ले जाया जाएगा। इस योजना के तहत पहली ट्रेन सात फरवरी को दुर्ग से जाएगी।

Advertisement


श्रीरामकिंकर विचार मिशन के स्वामी मैथिलीशरण महाराज जीवन प्रबंधन में श्रीराम पर व्याख्यान दिया। इसके बाद लोक कलाकार जोशी बहनें एवं कमलादेवी संगीत महाविद्यालय के कलाकार श्रीराम जन्मोत्सव पर सोहर और भजन गाकर श्रीरामोत्सव-सबके राम कार्यक्रम में समां बांध दिया।


मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री विष्णु देव साय एवं विशिष्ट अतिथि धर्मस्व, संस्कृति मंत्री बृजमोहन अग्रवाल कार्यक्रम में शामिल हुए। इस कार्यक्रम में प्रख्यात साहित्यकार गिरीश पंकज, श्रीराम वनगमन शोध संस्थान के अध्यक्ष श्याम बैस, गोभक्त मोहम्मद फैज, छत्तीसगढ़ी रामायण के रचनाकार डा.अमरनाथ त्यागी, इतिहासकार सेवानिवृत्त प्रोफेसर डा. रमेंद्रनाथ मिश्र सहित कई गणमान्य शामिल हुए।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button