देश

अक्षय तृतीया पर्व पर खुलेंगे गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के कपाट ,शुरू होगी चारधाम यात्रा……….

(शशि कोन्हेर): अक्षय तृतीया पर्व पर मंगलवार को गंगोत्री व यमुनोत्री धाम के कपाट खुलने के साथ ही उत्तराखंड हिमालय की चारधाम यात्रा विधिवत रूप से शुरू हो जाएगी।

Advertisement

इसी कड़ी में सोमवार दोपहर मां गंगा की डोली शीतकालीन प्रवास मुखवा से अपने पहले पड़ाव भैरवघाटी के लिए रवाना हुई। मंगलवार सुबह 6:30 बजे डोली गंगोत्री के लिए रवाना होगी और सुबह ठीक 11:15 बजे गंगोत्री धाम के कपाट खोल दिए जाएंगे।

Advertisement

वहीं, देवी यमुना की डोली मंगलवार सुबह शीतकालीन पड़ाव खरसाली से रवाना होगी और दोपहर 12:15 बजे यमुनोत्री धाम के कपाट खोले जाएंगे। कपाटोद्घाटन के लिए गंगोत्री और यमुनोत्री धाम की फूलों से भव्य सजावट की गई है।

Advertisement

उधर, पंचकेदार गद्दीस्थल ओंकारेश्वर मंदिर ऊखीमठ से भगवान केदारबाबा की पंचमुखी डोली भी सोमवार को केदारनाथ के लिए रवाना हो गई। धाम के कपाट छह मई को खोले जाएंगे। जबकि, बदरीनाथ धाम के कपाट आठ मई को खोले जाने हैं।

बदरी-केदार के जयकारों के साथ चारधाम के लिए रवाना हुए यात्री

ऋषिकेश में जय बदरी विशाल, हर-हर महादेव और जय मां गंगे के जयघोष के साथ तीर्थनगरी से 50 बसों से 1900 से अधिक यात्री यात्रा के लिए रवाना हुए। कोरोना महामारी के चलते दो वर्ष बाद शुरू हुई यात्रा को लेकर श्रद्धालुओं में अपार उत्साह है।

चारधाम के लिए 431809 यात्रियों का पंजीकरण

चार धाम यात्रा के लिए सोमवार तक 431809 श्रद्धालु अपना पंजीकरण करा चुके हैं। केदारनाथ धाम के लिए सबसे ज्यादा 153745 श्रद्धालुओं ने पंजीकरण कराया है। यमुनोत्री के लिए 73441, गंगोत्री के लिए 75698 व बदरीनाथ के लिए 125347 श्रद्धालुओं ने पंजीकरण कराया है। श्री हेमकुंड साहिब के लिए 3578 श्रद्धालुओं ने पंजीकरण किया है।

सिक्स सिग्मा की योगदान को सीएम ने सराहा

Advertisement

देहरादून में सोमवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सिक्स सिग्मा हेल्थकेयर द्वारा चार धाम यात्रा मार्गों पर उपलब्ध कराई जा रही स्वास्थ्य सेवाओं का फ्लैग आफ किया। सीएम ने कहा कि सिक्स सिग्मा छह माह तक चार धाम यात्रा के दौरान स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराएगा।

उन्होंने कहा कि समाज के योगदान से कार्यों में अधिक आसानी होती है। सिक्स सिग्मा हेल्थकेयर के डा. प्रदीप भारद्वाज ने कहा कि सिक्स सिग्मा के साथ दिल्ली एम्स के विशेषज्ञ डाक्टर भी सेवा दे रहे हैं। इस बार यात्रा में 130 से अधिक मेडिकल स्टाफ को लगाया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button