छत्तीसगढ़

खिलाड़ियों के प्रतिभाओं को दबाने को लेकर एनएसयूआई का प्रदर्शन…कुलपति हटाने की मांग, जानें.. क्यों हो रहा आंदोलन.?

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : बिलासपुर।अटल बिहारी विश्वविद्यालय के सॉफ़्टबॉल खिलाड़ी जो की राष्ट्रीय स्तर तक अपने खेल के प्रदर्शन से जौहर दिखा दिए हैं , इसके बावजूद एयू प्रशासन खिलाड़ियों को पंजाब खेलने नहीं भेज रहा. जबकि दूसरी तरफ़ राज्य सरकार खेल को बढ़ावा देने का हर संभव प्रयास कर रही है . उच्च पदों पर बैठे अधिकारी खिलाड़ियों के प्रतिभाओं को दबाने का प्रयास कर रहे है .

Advertisement

इस मुद्दे को लेकर प्रदेश महासचिव अर्पित केशरवानी के नेतृत्व में कोनी स्थित विश्वविद्यालय कैंपस में खिलाड़ियों व छात्रों के साथ इस माँग को लेकर उग्र प्रदर्शन किया गया है 1 घंटे तक विश्वविद्यालय गेट के समक्ष बैठकर कुलपति को माँग पूरी करने गुहार लगायी इस दौरान छात्र नेताओं की विश्वविद्यालय प्रशासन व पुलिस से बहस भी हुई. अर्पित केशरवानी ने कहा कि विश्वविद्यालय के कुलपति छात्रों की प्रतिभा को निखारने के छोड़ दबाने का प्रयास अधिक कर रहे हैं यही वजह है कि शहर के होनहार खिलाड़ियों को राष्ट्रीय स्तर में भाग लेने कुलपति अनुमति नहीं दे रहे जिसको लेकर आज एनएसयूआई ने मोर्चा खोल दिया है.

Advertisement

अगर 24 घंटे के अंदर छात्रों को अनुमति नहीं मिली तो कुलपति को हटाने की माँग मुख्यमंत्री से करेंगे. इस दौरान कोनी CSP नूपुर उपध्याय  विश्वविद्यालय पहुंचकर छात्रों नेताओ और कुलपति के बीच बातचीत कराई जिसके आश्वासन मिलने के बाद वह प्रदर्शन ख़त्म हुआ इस दौरान एनएसयूआई पूर्व जिला सचिव देवशीष ठाकुर, छात्रनेता गौरव परिहार,पिंटू सूर्यवंशी,राष्ट्रीय खिलाड़ी राहुल ठाकुर,शिवम,आयुष,हर्ष,शत्रहोहण,विशाल,पंकज,अतुल आदि खिलाड़ी शामिल रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button