छत्तीसगढ़

मुंगेली की महिला DFO शमा फारूकी ने रेंजर से करती थी बदसलूकी, कोतवाली में हुई शिकायत

(शशि कोन्हेर) : छत्तीसगढ़ के मुंगेली जिले में पदस्थ DFO शमा फारूकी पर एक रेंजर ने गंभीर आरोप लगाए हैं। रेंजर फेकुराम लास्कर के मुताबिक, महिला अधिकारी ने चिकन, बकरा, किराना मंगाया और अब एक लाख रुपए नहीं दे रही हैं। मांगने पर गाली-गलौज करती हैं, धमकी देती हैं। रेंजर ने ये भी बताया कि डीएफओ के लिए एक महिला को मालिश करने बुलाया था। उसके भी पैसे नहीं दे रही हैं। रेंजर ने इस मामले की शिकायत पुलिस और कलेक्टर से की है।

Advertisement

IFS शमा फारूकी मुंगेली वन मंडल में पदस्थ हैं। इसी रेंज में रेंजर फेकुराम लास्कर भी पोस्टेड है। वन अधिकारी ने मामले की शिकायत करते हुए बताया कि यह सब पिछले 5 महीने से चल रहा है। अफसर ने घर का सामान, बच्चों के लिए खिलौने तक मंगवा लिए। इन सब का पैसा 90 हजार रुपए हुआ है।

Advertisement

मालिश के 12 हजार भी नहीं दिए- रेंजर

Advertisement

रेंजर फेकुराम का आरोप है कि डीएफओ के कहने पर ही मैंने एक महिला चंद्रकुमारी पात्रे को बुलाया था। उसने अफसर की मालिश की। मालिश के 12 हजार रुपए हुए। ये पैसे भी मैंने ही दिए। कुल मिलाकर मैंने 1 लाख 2 हजार रुपए का भुगतान किया। फिर जब मैंने अधिकारी से पैसे मांगे तो मुझे गाली देने लगीं।

धमकी दी- सस्पेंड करवा दूंगी

रेंजर ने बताया कि शमा फारूकी नौकरी से निकलवाने की धमकी देती हैं। कहती हैं कि वन मंत्री और अधिकारी से बोलकर तुम्हें सस्पेंड करवा दूंगी। कुछ दिन में ही रिटायर होने वाले हो, ठीक से रिटायर नहीं होना चाहते क्या। एक रेंजर होकर तुम इतना भी नहीं कर सकते। आरोप है कि डीएफओ ने रेंजर को किसी मामले में फंसा देने की भी धमकी दी है।

रेंजर फेकुराम कहते हैं कि मेरी आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है। मुझे लगा था पैसे मिल जाएंगे, इसलिए सब सामान लाकर देता रहा। 30 जून को मैं रिटायर हो जाऊंगा, लेकिन डीएफओ ने मुझे प्रताड़ित कर रखा है। मेरे पैसे नहीं दे रहीं। मुझे लकवा मार चुका है.. परेशान हूं, बार-बार निवेदन करने पर भी मुझे गाली देती हैं। मामले पर फेकूराम लास्कर ने वन मंत्री मोहम्मद अकबर और संबंधित अधिकारियों से भी पत्र लिखकर शिकायत की है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button