play-sharp-fill
देश

7 बच्‍चों को स्‍कूटर पर घुमाता दिखा शख्स, Video वायरल होने पर हंगामा पुलिस ने सिखाया सबक

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में सड़क सुरक्षा नियमों के घोर उल्लंघन का मामला सामने आया है। यहां एक व्यक्ति स्कूटर पर 7 बच्चों को ले जाते हुए कैमरे में कैद हुआ है। एक ट्विटर यूजर की ओर से यह वीडियो शेयर किया गया जो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।

Advertisement

इस वायरल वीडियो क्लिप में देखा जा सकता है कि एक आदमी अपने स्कूटर पर सवार है, जिस पर 2 बच्चे आगे और 3 पीछे बैठे हुए हैं। इसके अलावा, 2 अन्य बच्चे पीछे खड़े हैं। साफ तौर यह रोड सेफ्टी को लेकर घोर लापरवाही का मामला नजर आ रहा है।

Advertisement

ट्विटर यूजर ने वीडियो को पोस्ट करते हुए लिखा, ‘यह गैर-जिम्मेदार व्यक्ति 7 बच्चों के साथ स्कूटर पर घूम रहा है। इसने सात छोटे बच्चों की जान जोखिम में डाली है। इसके लिए उसे तुरंत गिरफ्तार किया जाना चाहिए। यहां तक कि इन बच्चों के माता-पिता पर भी मुकदमा दर्ज करने की जरूरत है।

वायरल वीडियो को देखने के बाद इंटरनेट यूजर्स भी हैरान रह गए। लोगों ने इसे लेकर आरोपी व्यक्ति के खिलाफ सख्त ऐक्शन लिए जाने की मांग रखी। यूजर्स का कहना था कि इस आदमी ने इन बच्चों की जान को सीधे-सीधे खतरे में डाला है।

मुंबई पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार
वायरल क्लिप पर ऐक्शन लेते हुए मुंबई ट्रैफिक पुलिस ने आरोपी व्यक्ति को संट्रेल मुंबई से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उस व्यक्ति को गैर इरादतन हत्या के प्रयास और बच्चों व अन्य लोगों के जीवन को खतरे में डालने के आरोप में अरेस्ट किया है।

आरोपी पर भारतीय दंड संहिता की धारा 308 (गैर इरादतन हत्या का प्रयास) के तहत मामला दर्ज किया गया है। पुलिस की ओर से इस पर लिखा गया, ‘इस तरह की सवारी का हम समर्थन नहीं करते हैं! इस राइडर ने अपनी सभी सवारियों और अन्य लोगों की जान खतरे में डाली है। आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 308 के तहत गैर इरादतन हत्या के प्रयास का गंभीर मामला दर्ज किया गया है।’

इंटरनेट यूजर्स ने निकाला अपना गुस्सा
वीडियो को देखने के बाद एक इंटरनेट यूजर ने लिखा, ‘इस व्यक्ति ने इस सभी की जिंदगी खतरे में डाल दी है। इससे सड़क पर चलने वाले अन्य लोगों के लिए भी दुर्घटना का जोखिम बढ़ गया है।

अगर यह वाहन संतुलन खो देता है और उनसे टकरा जाता है तो दोपहिया वाहनों पर सवार लोग गिर सकते हैं। यह घोर लापरवाही है।’ एक अन्य ने शख्स ने कमेंट किया, ‘हेलमेट भी नहीं लगाया है। यह कानून व्यवस्था का पूरी तरह मजाक है।’ तीसरे शख्स ने कहा कि ऐसे लोगों को अधिकतम सजा दी जानी चाहिए। इस तरह की लापरवाही स्वीकार नहीं की जा सकती है।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button