देश

उल्टा झरना, जिसका पानी नीचे जाने के बजाय ऊपर की ओर आता दिखाई दे रहा….देखिये वीडियो

दुनिया में ऐसी कई जगह जो काफी ज्यादा रहस्मयी है। जिसके रहस्य से आज से आजतक पर्दा नहीं उठ पाया है। भारत में भी एक ऐसे कई स्थल है, जो लोगों की जिज्ञासा का विषय बने रहते हैं। इसी कड़ी में आज हम आपको एक ऐसी ही जगह के बारे में बताने जा रहे हैं। जिसके बारे में जानकर आप दंग रह जाएंगे हमारे देश में भी एक ऐसी जगह है, जो न्यूटन के गुरुत्वाकर्षण के नियम को चुनौती देने वाली है। ये जगह है महाराष्ट्र के नानेघाट का उल्टा झरना, जिसका पानी नीचे आने के बजाय ऊपर की ओर चला जाता है। आइए जानते हैं ये ऐसा क्यों संभव है –

Advertisement

महाराष्ट्र के नानेघाट का उल्टा झरना कुदरत का अद्भुत नमूना है। मुंबई से लगभग तीन घंटे की दूरी पर स्थित इस जगह पर झरने से गिरने वाला पानी नीचे नहीं आकर ऊपर की ओर चला जाता है। नानेघाट झरने की, इस जगह की सुंदरता मानसून में देखने लायक होती है क्योंकि इस दौरान यहां पानी ज्यादा रहता है और वह उड़कर हवा में चला जाता है।जिस कारण इसे रिवर्स वॉटरफॉल भी लोग कह देते हैं। इस झरने को देखकर कहा जाता सकता है कि ये झरना न्यूटन के नियम को खुलेआम चुनौती देता है क्योंकि न्यूटन के गुरुत्वाकर्षण नियम के मुताबिक, कोई भी चीज जो ऊपर से गिरती है, वो सीधे नीचे आती है लेकिन इसके साथ ऐसा नहीं है, ये घाट की ऊंचाई से नीचे गिरने के बजाय ऊपर आ जाता है।

Advertisement

ये झरना अपनी इसी खासियत के लिए सारी दुनिया में मशहूर है। इस झरने का एक वीडियो आईएफएस सुशांत नंदा IFS Susanta Nanda ने शेयर किया है जिसमें देखा जा सकता हैं कि झरने का पानी नीचे गिरने के बजाय ऊपर जा रहा है। इसी ख़ासियत के कारण ये झरना लोगों के बीच काफी मशहूर है। इस झरने की ये कहानी जान आपके मन में ये सवाल तो जरूर ऐसा कैसे हो सकता है? इस झरने को लेकर वैज्ञानिकों ने बताया कि इसके पीछे हवाओं का तेज बल है, जो बहते पानी को ऊपर की ओर धकेलता है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि नानेघाट में हवा बेहद तेज हवा चलती है। यही कारण है कि जब वॉटरफॉल का पानी जब नीचे गिरता है तो वो हवा के चलते उड़कर ऊपर आ जाता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button