छत्तीसगढ़

वंदे भारत सुपर फास्ट ट्रेन के लिए पूर्व मंत्री  अमर अग्रवाल ने जनता को दी बधाई …. वही ट्रेन बंदी की बात करने वालों को बताया मानसिक दिवालियापन का शिकार

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : पूर्व मंत्री श्री अमर अग्रवाल ने वंदे भारत की सुपरफास्ट द्रुतगामी रेल सेवा नागपुर से बिलासपुर के बीच में आरंभ किए जाने को प्रदेशवासियों के लिए मोदी सरकार की अप्रतिम सौगात बताया। श्री अग्रवाल ने जारी विज्ञप्ति में कहा प्रधानमंत्री श्री मोदी एवं रेल मंत्री श्री अश्वनी वैष्णव का विशेष आभार व्यक्त करते हुए कहा स्व• अटल जी ने छत्तीसगढ़ राज्य बनाया, बिलासपुर को सत्रहवें रेलवे जोन का दर्जा दिलाया।

Advertisement

उन्होंने कहा बिलासपुर से चारों दिशाओं, महानगरों में जाने के लिए सीधी ट्रेनें हैं। रेल सुविधाओं के नाम पर बिलासपुर  छत्तीसगढ़ देश के प्रमुख रेलवे केंद्रों में से एक है। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे जोन बिलासपुर के अंतर्गत रायपुर बिलासपुर और नागपुर रेलवे डिवीजन आते हैं, बस्तर क्षेत्र में यात्री पर्यटन सुविधाओं के विस्तार को देखते हुए विस्टाडोम कोच की सुविधा किरंदुल विशाखापट्टनम पैसेंजर में शुरू की गई है।गर्व की बात है कि आज देश की छटवी वंदे भारत तीव्र गति से चलने वाली सुपरफास्ट ट्रेन को माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा नागपुर रेलवे स्टेशन से हरी झंडी दिखाकर बिलासपुर रवाना किया। वंदे भारत एक्सप्रेस चालू होने से तीव्र गति की सुपर फास्ट रेल सुविधाएं छत्तीसगढ़ के लोगों को मिल गई है।

Advertisement

रेलवे ट्रैक की गति में सुधार होने पर 130 किलोमीटर प्रति घंटा से भी आगे 160 किलोमीटर प्रति घंटा तक रफ्तार की रेल सुविधा छत्तीसगढ़ के लोगों को प्राप्त हो सकेगी।श्री अमर अग्रवाल ने कहा आधुनिक सुविधाओं वाली वंदेभारत एक्सप्रेस ट्रेन में कई खासियत है. ऑटोमेटिक गेट सिस्टम के साथ ट्रेन में सीसीटीवी कैमरे ,इंटरनेट की सुविधा है. वाईफाई के जरिए मोबाइल फोन या टेबलेट का उपयोग यात्री कर सकते हैं. एग्जीक्यूटिव क्लास में  यात्री अपनी चेयर को 180 डिग्री तक घुमा सकते हैं।

वंदे भारत एक्सप्रेस का इंजन भी खास तरीके से डिजाइन किया गया है. इंजन मेट्रो एवं बुलेट ट्रेन के समान है. पूर्ण रुप से ये स्वचालित ट्रेन है।उन्होंने बताया रेलवे द्वारा झारसुगड़ा से नागपुर के बीच आटोमेटिक सिगनलिंग प्रणाली, एंटी कोलिजन डिवाइस रेल मार्ग में लगाई गई है, आने वाले वर्षों में शीघ्र ही फ्रेट कॉरिडोर विकसित हो जाने से कोयला परिवहन के लिए पृथक रेलवे ट्रैक होगा, जिससे यात्री गाड़ियों के परिचालन में होने वाले अनावश्यक विलंब से निजात मिल सकेगी।


ट्रेनबंदी की बातें करने वालों पर अमर श्री अग्रवाल ने कहा कि कुछ लोग मानसिकबंदी का शिकार होकर केवल राजनीतिक फायदे के लिए उल जलूल बयान जारी भ्रम फैलाने का काम करते रहते हैं, ताकि वे वे सुर्खियों में बने रहे। माननीय प्रधानमंत्री जी की सोच के अनुसार आने वाली पीढ़ी के लिए सुविधाओं को देखते हुए छत्तीसगढ़ सहित पूरे देश में वर्ल्ड क्लास रेलवे स्टेशन व सेवाएं विकसित की जा रही हैं। महामारी के काल में ठप्प पड़ी सेवाओं के बाद सुरक्षित एवं तीव्र गति की रेल सेवाओं की सुविधा प्रदान करने एवं देश की ऊर्जा जरूरतों की सतत आपूर्ति, सुरक्षित ऑपरेशन एवं मेंटेनेंस  की दृष्टि से सैकड़ों ट्रेनों में कुछ ट्रेनों को समय-समय पर स्थगित किया कंट्रोल किया जाता है, रेल प्रशासन को भी संजीदगी के साथ संचार माध्यमों से सेवाओं के संबंध में नागरिकों को अवगत कराना चाहिये।

श्री अग्रवाल ने कहा कि रोड़े अटकाने और और मीनमेख निकालने की बजाए राज्य की सरकार को केंद्रीय उपक्रमों द्वारा देशवासियों के लिए की जा रही सेवाओं पर गर्व करने के साथ सुचारु संचालन पर सहभागिता करनी चाहिए ।अमर अग्रवाल राज्य सरकार से अपेक्षा की है कि छोटे शहरों की परिवहन आवश्यकताओं की पूर्ति करने के लिए महामारी के काल में सैकड़ों की संख्या में विभिन्न शहरों में ठप पड़ी सिटी बस की सुविधाओं के शतप्रतिशत परिचालन शीघ्रता से आरम्भ करावेगी।उन्होंने छत्तीसगढ़ के जनमानस को वंदे भारत सुपरफास्ट सेवा हेतु हार्दिक बधाई देते हुए प्रधानमंत्री  एवं रेल मंत्री जी का विशेष आभार व्यक्त किया।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button