छत्तीसगढ़

आग से बचाव के लिए फायर फाइंटिग मॉक ड्रिल,शांति एवं धैर्य से करें आगजनी का मुकाबला : कलेक्टर…

Advertisement

बिलासपुर : गरमी के मौसम में आगजनी की आशंकां कई गुना ज्यादा बढ़ जाती है। ऐसे हालात में आग से बचाव संबंधी लोगों में जागरूकता लाने के लिए फायर फाईटिंग मॉक ड्रिल का आयोजन किया गया। जिला कार्यालय परिसर में आयोजित ड्रिल में नगर सेना एवं अग्निशमन विभाग द्वारा आग के विभिन्न प्रकार एवं उससे बचाव की उपयोगी जानकारी दी गई।

Advertisement

कलेक्टर अवनीश शरण सहित जिला कार्यालय के वरिष्ठ अधिकारी, कर्मचारी एवं बड़ी संख्या में उपस्थित आम जनता ने प्रदर्शनी का अवलोकन कर इसे अत्यंत उपयोगी बताया। जिला कमाण्डेन्ट एवं अग्निशमन अधिकारी दीपांकुर नाथ के नेतृत्व में नगर सेना, अग्निशमन एवं एसडीआरएफ की टीम ने आग से बचाव का सुन्दर मॉक ड्रिल किया। लोगों को घरेलू अग्निशन उपकरणों के उपयोग एवं आगजनी पर रखने वाली सावधानियां की जानकारी दी गई।

Advertisement


कलेक्टर अवनीश शरण ने ड्रिल देखने के बाद कहा कि मॉक ड्रिल से लोगों में आगजनी के बारे में महत्वपूर्ण जानकारियां मिली हैं और कई भ्रांतिया दूर हुई हैं। उन्होंने कहा कि आग का मुकाबला शांति से करना चाहिए। आग लगने पर घबराना नही चाहिए। आग लगने पर जलने से ज्यादा दम घुटने से मौत होती है।

सभी लोग अपने घरों में लघु अग्निशमन का औजार रखें। डेढ़ दो हजार रूपये इसकी कीमत होती है। समय-समय पर इसका परीक्षण करते रहें। जिला कमाण्डेन्ट दीपांकुर नाथ ने बताया कि आग लगने पर जल्द जमीन पर लेट जाएं। नाक में गीला कपड़ा रखकर खुले में बाहर निकल जाएं। जरा भी घबराने की जरूरत नहीं है। उन्होंने आग के प्रकार, विभिन्न प्रकार से आग बुझाने की तरकीब, सावधानियां तथा आग लगने पर क्या कार्रवाई करना चाहिए, के बारे में बताया।


जिला अग्निशमन अधिकारी दीपांकुर नाथ ने आम जनता से अपील की है अग्निदुर्घटना से बचाव हेतु लोग सजग रहें। अपने निवास स्थान पर किसी भी प्रकार की ज्वलनशील पदार्थ जैसे पेट्रोल, डीजल, किरोसीन, तारपीन तेल, स्पिरिट आदि का भण्डारण न करें। मॉक ड्रिल में कई लोगों ने अग्निशमन औजारों का व्यावहारिक उपयोग करना सीखा।

आगजनी संबंधी लोगों की शंकाओं का समाधान भी किया गया। आपर कलेक्टर द्वय आरए कुरूवंशी, शिवकुमार बनर्जी सहित विभाग के सब इंस्पेक्टर रवि शर्मा, मनोहर धु्रव,दीपक नावरे, सुनील भगत, एसडीआरएफ के बलराम, दीपक साहू आदि जवान शामिल होकर महत्वपूर्ण योगदान दिया।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button