play-sharp-fill
देश

फेसबुक की पैरेंट कंपनी मेटा में 11 हजार कर्मचारियों की छंटनी….जुकरबर्ग ने कहा, ‘कठिन था फैसला’

(शशि कोन्हेर) : ट्विटर के बाद फेसबुक की पैरेंट कंपनी ‘मेटा’ ने जाब कट का अहम फैसला लिया। बुधवार को मेटा प्लेटफार्म इंक ने ऐलान किया कि यह अपने 13 फीसद यानी 11 हजार से अधिक कर्मचारियों को नौकरी से निकालने जा रहा है।

Advertisement


फेसबुक की पैरेंट कंपनी मेटा ने आज घोषणा की कि वह निराशाजनक कमाई और रेवेन्यू में गिरावट की भरपाई करने के लिए 11000 से अधिक कर्मचारियों को निकालने जा रही है। पिछले दिनों टेक जगत में व्यापक स्तर पर नौकरी में कटौती के मामले सामने आए हैं।

Advertisement


कंपनी के मालिक मार्क जुकरबर्ग ने कहा, ‘फेसबुक की पैरेंट कंपनी मेटा अपने 11 हजार से अधिक स्टाफ को निकालने जा रही है। यह काफी कठिन बदलाव है जो मैंने मेटा के इतिहास में किया है।’

Advertisement

मेटा प्लेटफार्म इंक ने बताया कि इसने अपने 13 फीसद वर्कफोर्स यानी 11 हजार से अधिक कर्मचारियों को जाब से निकालने का फैसला लिया है। दिग्गज टेक कंपनी ने व्यापक स्तर पर नौकरी की कटौती का ऐलान किया है। टेक जगत में इस साल का यह अहम फैसला है।

एलन मस्क की ट्विटर समेत दिग्गज टेक कंपनियों में नौकरी की कटौती हुई है लेकिन मेटा के 18 साल के इतिहास में इस तरह का कदम पहली बार उठाया गया है। Meta के शेयर को इसके वैल्यू के दो तिहाई से अधिक का नुकसान हुआ है।

मेटा से निकाले गए कर्मचारियों को मिलेगी 6 सप्ताह की बेसिक सैलरी
मिलेगा 6 महीने के लिए स्वास्थ्य सेवा का खर्च
अधिक पूंजी कुशल बनाने पर मेटा का जोर
मेटावर्स परियोजना को आगे बढ़ाने पर दिया जाएगा ध्यान


सितंबर अंत तक मेटा के पास 87 हजार से अधिक कर्मचारी थे। इस तरह व्यापक स्तर पर नौकरी में कटौती का यह फैसला कंपनी के 18 साल के इतिहास में पहली बार लिया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button