देश

द्रौपदी मुर्मू या यशवंत सिन्हा, किसके लिए सजेगा रायसीना हिल्स नए राष्ट्रपति के लिए वोटों की गिनती आज………

(शशि कोन्हेर) : देश को आदिवासी समुदाय से पहला राष्ट्रपति मिल सकता है। यह भी तय हो जाएगा कि मौजूदा राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द का उत्तराधिकारी कौन होगा। देश के 15वें राष्ट्रपति के चुनाव के लिए सोमवार यानी 18 जुलाई को मतदान हुआ था। गुरुवार सुबह 11 बजे से संसद भवन में मतगणना शुरू होगी और शाम तक नतीजे भी आ जाने की उम्मीद है।

Advertisement

चुनाव मैदान में सत्तारूढ़ राजग की तरफ से द्रौपदी मुर्मू और विपक्ष की तरफ से यशवंत सिन्हा मैदान में हैं। मुर्मू का पलड़ा स्पष्ट रूप से भारी है और उनका चुना जाना लगभग तय माना जा रहा है।

Advertisement

द्रौपदी मुर्मू का बड़ी जीत के साथ 15वां राष्ट्रपति बनना लगभग तय
निर्वाचित होने पर वह देश में शीर्ष संवैधानिक पद पर काबिज होने वाली पहली आदिवासी महिला होंगी। राम नाथ कोविन्द का कार्यकाल 24 जुलाई को खत्म हो रहा है और नए राष्ट्रपति का शपथ ग्रहण 25 जुलाई को होगा।

Advertisement

संसद में कुल 99.18 प्रतिशत मतदान हुआ। चुनाव के लिए मुख्य रिटर्निग अधिकारी राज्यसभा के महासचिव पीसी मोदी की निगरानी में मतगणना होगी। संसद भवन में कमरा नंबर 63 को स्ट्रांग रूम बनाया गया है।

सभी राज्यों से मंगलवार को ही मतपेटियां संसद भवन पहुंच गई थीं। सांसदों के मतों की गणना होने के बाद मोदी रुझानों के बारे में जानकारी देंगे। उसके बाद 10 राज्यों की मतगणना के बाद फिर रुझान के बारे में बताएंगे। 20 राज्यों की मतगणना के बाद एक बार फिर वह नवीनतम जानकारी देंगे और उसके बाद सभी मतों की गिनती के बाद अंतिम निर्णय की घोषणा करेंगे।

द्रौपदी मुर्मू को एनडीए के अलावा बीजेडी, वाईएसआरसीपी, बसपा, एआईएडीएमके, टीडीपी, जनता दल (एस), शिरोमणि अकाली दल, शिवसेना के दोनों गुट और जेएमएम का समर्थन मिला है। विपक्ष के उम्‍मीदवार यशवंत सिन्हा को कांग्रेस, टीएमसी, द्रमुक, एनसीपी, सपा और राजद के अलावा कई अन्य दलों ने अपना समर्थन दिया है।

कई राज्‍यों में हुई क्रास वोटिंग


राष्ट्रपति चुनाव के दौरान उत्‍तर प्रदेश, गुजरात, असम आदि राज्‍यों में क्रास वोटिंग हुई। माना जा रहा है कि ज्‍यादातर सदस्‍यों ने द्रौपदी मुर्मू के पक्ष में मतदान किया। गुजरात में एनसीपी विधायक ने एनडीए प्रत्याशी द्रौपदी मुर्मू के पक्ष में वोट दिया। ओडिशा के कांग्रेस विधायक मोहम्मद मुकीम ने द्रौपदी मुर्मू को वोट दिया। करीब 13 विधायकों और सांसद वोट नहीं डाल सके।

Advertisement

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button