देश

विनेश फोगाट, साक्षी मलिक, बजरंग पूनिया समेत पहलवानों के खिलाफ दर्ज FIR वापस लेगी दिल्ली पुलिस

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : देश के मेडलधारी पहलवान बीजेपी सांसद बृजभूषण सिंह के खिलाफ मोर्चा खोले हुए हैं. बृजभूषण पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगाते हुए उनकी गिरफ्तारी की मांग की जा रही है. इस बीच सूत्रों का कहना है कि दिल्ली पुलिस पहलवानों के खिलाफ दर्ज एफआईआर वापस लेगी.

Advertisement

दरअसल पहलावनों ने 28 मई को नई संसद भवन के उद्घाटन समारोह के दिन जंतर मंतर से संसद भवन की तरफ मार्च करने की कोशिश की थी. पुलिस ने हंगामे के बाद पहलवानों को हिरासत में ले लिया था. इसके बाद पहलवानों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई थी. अब दिल्ली पुलिस इस एफआईआर को वापस ले रही है.

Advertisement

बता दें कि इस एफआईआर में बजरंग पूनिया, साक्षी मलिक और विनेश फोगाट जैसे पहलवानों का नाम है.

Advertisement

पहलवानों के खिलाफ एफआईआर दर्ज होने के बाद विनेश फोगाट ने कहा था कि दिल्ली पुलिस यौन उत्पीड़न के आरोपी बृजभूषण के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने में सात दिनों का समय लेती है लेकिन शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने के लिए हमारे खिलाफ एफआईआर दर्ज करने में सात घंटे का भी समय नहीं लिया गया. क्या देश में तानाशाही है? पूरी दुनिया देख रही है कि सरकार खिलाड़ियों के साथ कैसा व्यवहार कर रहा है. एक नया इतिहास लिखा जा रहा है.

Advertisement

वहीं, बजरंग पूनिया ने कहा था कि पुलिस ने मुझे अपनी कस्टडी में रखा. वे कुछ नहीं बता रहे. क्या मैंने कोई अपराध किया है? बृजभूषण को जेल में होना चाहिए. मालूम हो कि पहलवानों के खिलाफ आईपीसी की धारा 147, 149, 186, 188, 332 और 353 के तहत मामला दर्ज किया था.

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button