रायगढ़

प्रदेश सरकार की चौथी वर्षगांठ पर रायगढ़ में दिखा कांग्रेसियों का होर्डिंग वार..!

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : रायगढ़ – एक तरह जहां भूपेश बघेल सरकार अपने चार साल के कार्यकाल की उपलब्धियों को लेकर चौथी वर्षगांठ को गौरव दिवस के रूप में मना रही है। वहीं रायगढ़ में शहर कांग्रेस की आपसी खींचतान व गुटबाजी होर्डिंग्स के रूप में खुलकर सामने आयी है। शनिवार को भूपेश सरकार के चार वर्ष पूरे हो गए। और सरकार ने इस चौथी वर्षगांठ को गौरव दिवस के रूप में मनाने की पहल की थी। प्रदेश के सभी जिला मुख्यालय के अलावा विधानसभा स्तर पर सरकार की उपलब्धियों को आमजन तक पहुंचाने का प्रयास किया गया। तो वहीं दूसरी ओर रायगढ़ जिला मुख्यालय में इस गौरव दिवस पर कांग्रेसियों के बीच लंबे समय से चली आ रही आपसी खींचतान और गुटबाजी होर्डिंग्स के रूप में खुलकर सतह पर आ गयी है।

Advertisement

आज शहर के विभिन्न चौक-चौराहों व व्यस्तम मार्गो पर गौरव दिवस के उपलक्ष्य में होर्डिंग्स लगाए गए हैं। ये होर्डिंग्स शहर के जमुना इन चौक, चक्रधर नगर चौक, शहीद चौक, गोपी टाकीज के पास, स्टेशन रोड़, केवड़ाबाडी बस स्टैण्ड सहित दर्जनभर स्थानों पर लगवाये गए। मगर इन होर्डिंग्स से विधायक प्रकाश नायक, महापौर श्रीमती जानकी काटजू, अनिल शुक्ला व निगम सभापति जयंत ठेठवार जैसे प्रमुख जनप्रतिनिधियों की फोटो गायब है, जो पूरे शहर सहित आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों में भी खासा चर्चा का विषय बना रहा।

Advertisement

होर्डिग्स में शहर कांग्रेस की बी टीम कहे जाने वाले में विरिष्ठ कांग्रेस नेता संतोष राय, पूर्व महापौर जेठूराम मनहर, पूर्व जिला कांगे्रस अध्यक्ष नगेन्द्र नेगी, अनिल अग्रवाल चिकू, मनोज सागर, सतपाल बग्गा, प्रदीप मिश्रा, पार्षद संजय देवांगन, संदीप अग्रवाल, मनीष गांधी, कलदीप नरसिंग, सुनील, महिला कांगे्रस की जिलाध्यक्ष रानी चैहान, जुगरी बाई व पार्वती चैहान की फोटो है। इस होर्डिंग्स में छत्तीसगढ़ गौरव दिवस के चार वर्ष पूरे होनें पर इन नेताओं ने न केवल जन जन का आभार व्यक्त किया करने के साथ ही होर्डिंग्स के माध्यम से बधाई भी दी । कुल मिलाकर इस होर्डिंग्स से यह स्पष्ट होता है कि आने वाले एक वर्ष में शहर कांग्रेस में घमासान होनें के आसार दिख रहे हैं बल्कि कांग्रेस के भीतर की यह लड़ाई अब खुलकर सामने आने लगी है। अब यह देखना बाकी है कि शहर कांग्रेस के भीतर आपस की इस गुटबाजी और वर्चस्व की लड़ाई का आगामी विधानसभा चुनाव में क्या परिणाम निकलकर आता है।


इस संबंध में जब शहर कांग्रेस अध्यक्ष अनिल शुक्ला से चर्चा की गई तो उनका कहना था कि शहर में जो होर्डिंग्स लगे हैं, उसकी जानकारी उन्हें नही है। लेकिन जहां तक वरिष्ठ जनप्रतिनिधियों की उपेक्षा की बात है तो जिन लोगों ने भी ये होर्डिग्स लगवाये हैं उनको प्रोटोकाल का ध्यान रखना चाहिए था। उन्होंने कहा कि हालांकि होर्डिंग लगाना व्यक्तिगत विषय है। इसके बावजूद इस विषय को संज्ञान में लिया जाएगा

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button