बिलासपुर

ठेकेदार व पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों के खिलाफ सिविल लाइन थाने में मामला दर्ज, 68 वर्षीय कृपाल सिंह गाबा के मौत मामले में थाने में हंगामा

(आशीष मौर्य के साथ सुशांत सिंह ठाकुर) : बिलासपुर – सिविल लाइन थाना क्षेत्र अंतर्गत अलका एवेन्यू के पास पीडब्ल्यूडी के द्वारा खोदे गए गहारे गड्ढे में, 68 वर्षीय कृपाल सिंह गाबा की गिरने से मौत हो गई थी.

Advertisement
मृतक – कृपाल सिंह गाबा

मामले में परिजनों ने कंस्ट्रक्शन कंपनी और विभाग के संबंधित अधिकारियों के खिलाफ सिविल लाइन थाने में शिकायत दर्ज कराई है, कार्रवाई नहीं होने के कारण गुरुवार की दोपहर परिजनों मृतक का शव सिविल लाइन थाने में रखकर हंगामा किया. परिजनों के आक्रोश को देखते हुए सिविल लाइन पुलिस ने तत्काल कंस्ट्रक्शन कंपनी और पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों के खिलाफ लापरवाही बरतने और गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया.

Advertisement

गौरतलब है कि अलका एवेन्यू के पास सड़क निर्माण का कार्य चल रहा है, जो कि पीडब्ल्यूडी की ठेका कंपनी डीसी कंस्ट्रक्शन के द्वारा कराया जा रहा है. ठेका कंपनी के द्वारा खोदे गए गड्ढे के आसपास सुरक्षा के कोई उपाय नहीं किए गए. जिसके चलते यह हादसा हुआ है. पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों की निगरानी में पूरा काम चल रहा है. मौत के मामले में परिजनों ने सिविल लाइन थाने में अपराध दर्ज कराया है

Advertisement

परिजनों द्वारा की गयी शिकायत:-उपरोक्त विषयान्तर्गत निवेदन है कि ग्राम मंगला से लोखड़ी रेल फाटक जाने वाली सड़क का चौड़ीकरण कार्य लोक निर्माण विभाग द्वारा ठेकेदार के माध्यम से कराया जा रहा है ठेकेदार की फर्म का नाम है डी.सी. कन्सट्रक्शन है फर्म का प्रोपाईटर देवचरण राठौर है मौके पर कार्य की देखरेख देवचरण राठौर का पुत्र गुड्डू राठौर करता है ठेकेदार के द्वारा सड़क चौड़ीकरण हेतु कल दिनांक 19/04/2023 को अल्का एवेन्यु कालोनी के गेट से आगे पुलिया निर्माण हेतु लगभग 10 फीट गहरा गड्डा खोद कर छोड़ दिया गया था। मौके पर किसी प्रकार से बेरिकेटिंग या संकेतक ठेकेदार के द्वारा नही लगाया गया था तथा सुरक्षा मानकों का भी पालन नहीं किया गया । मेरे पिता कृपाल सिंह दिनाक 19/04/2023 को रात्रि लगभग 8:30 बजे डेयरी के कार्य से उषा उपवन स्थित अपने घर से मोटर सायकल से निकले थे और ठेकेदार के द्वारा पुलिया निर्माण के लिये कराये गये गड्डे में मोटर सायकल सहित गिर गये जिससे उन्हें गंभीर चोटे आई। मेरे पिता के उक्त गड्डे में गिरने के उपरांत कुछ देर बाद एक लड़का जो कि उषा उपवन में ही रहता है वह भी उस गड्डे में मोटर सायकल सहित गिर गया। कुछ राहगीर उस लड़के के चिल्लाने पर उसे बचाने गये और बाहर निकाले तो वह बताया कि कोई व्यक्ति पहले से ही उक्त गड्डे में मोटर सायकल सहित गिरा हुआ है। पुलिस को सूचना दी गई तो एंबुलेंस वाले आये और मेरे पिता को बाहर निकाला और अस्पताल ले गये वहां पर डाक्टरों के द्वारा मेरे पिता को मृत घोषित कर दिया गया। इंजीनियर दीपक खण्डेलवाल एवं कार्यपालन अभियंता ए. के चौरसिया की देखरेख में ठेकेदार द्वारा निर्माण कार्य कराया जा रहा है। मेरे पिता की मृत्यु ठेकेदार डी.सी. कन्सट्रक्शन, इंजीनियर दीपक खण्डेलवाल, कार्य पालन अभियंता एके चौरसिया की लापरवाही के कारण हो गई है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button