देश

150 की रफ्तार से तबाही ला रहा है बिपरजॉय चक्रवात….IMD ने जारी की चेतावनी

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : गुजरात की ओर बढ़ रहा चक्रवात ‘बिपरजॉय’ तबाही मचाने के लिए तैयार है। मंगलवार को मौसम विभाग ने भी तेज हवाओं को लेकर चेतावनी जारी कर दी है। आशंकाएं जताई जा रही थीं कि तूफान 15 जून तक गुजरात के तट पर पहुंच सकता है। फिलहाल, सरकार ने बचाव और राहत कार्य के लिए तैयारियां कर ली हैं।

Advertisement

IMD प्रमुख डॉक्टर मृत्युंजय मोहापात्रा ने कहा, ‘पोरबंदर, देवभूमि द्वारका जिलों में कच्छ तक हवा की रफ्तार तेज हो रही है। कल 65-75 किमी प्रतिघंटा तक जा सकती है।’ उन्होंने बताया, ’15 जून को गुजरात के द्वारका, जामनगर, कच्छ और मोरबी जिलों में हवा की रफ्तार 125-135 किमी प्रतिघंटा तक होगी और 150 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार तक चलेंगी। ये संभावित रूप से बड़े स्तर पर तबाही मचा सकती हैं।’

Advertisement

उन्होंने बताया, ‘चक्रवात द्वारका से 280 किमी दूर केंद्रित है। साइक्लोन के आउटर बैंड के प्रभाव में कच्छ और देवभूमि द्वारका में पहले ही बादल दिखने लगे हैं। ऐसे बादल कल भी थे और इनकी वजह से सौराष्ट्र के तटीय जिलों में अति भारी बारिश हुई थी।’ सुरक्षा के मद्देनजर गुजरात से करीब 8 हजार लोगों को सुरक्षित स्थान पर ले जाया गया है।

Advertisement

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने कहा, ‘भारत सरकार, राज्य सरकार, वायु सेना, नौसेना, तटरक्षक, आपदा प्रबंधन की टीम सभी आपस में समन्वय बना रही है। इस चक्रवात का प्रभाव कम से कम हो, जनहानि कम हो, उसको ध्यान में रखते हुए कई सारे कदम उठाए गए हैं। 0-10 किमी तक के तटीय रेखा क्षेत्र से लोगों को बाहर निकाला जा रहा है।’

Advertisement

इधर, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने भी बैठक की है। उन्होंने कहा, ‘पिछले 9 वर्षों में केंद्र सरकार और राज्यों ने इस क्षेत्र में बहुत कुछ हासिल किया है। इससे कोई इंकार नहीं कर सकता। लेकिन हम संतुष्ट नहीं रह सकते क्योंकि आपदाओं ने अपना रूप बदल लिया है और उनकी आवृत्ति और तीव्रता बढ़ गई है। हमें और व्यापक योजना बनानी होगी। कई प्रकार के नए क्षेत्रों में भी आपदा का अनुभव आ रहा है। इन सभी के लिए हमें अपने आप को तैयार करना पड़ेगा।’

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button