बिलासपुर

बिलासपुर विधायक शैलेष पाण्डे की जुबानी… स्वामी आत्मानंद स्कूल के सफलता की कहानी

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : आज स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल में आयोजित साइकिल वितरण कार्यक्रम उपरांत स्कूल परिसर से बाहर लौट रहा था, कि स्कूल के सामने स्थित मोची की दुकान से आवाज आती है, विधायक जी जरा सुनिए, और फिर मैं वहां पहुंचता। वहां एक व्यक्ति (मोची) बैठा हुआ है और मैं उसकी बात सुनेने उसके साथ बाजू में बैठ जाता। वह कहता है कि आप मेरी बेटी साक्षी अहिरवार का एडमिशन स्वामी आत्मानंद स्कूल में करवा दीजिए, यह बात सुनकर मेरा दिल प्रफुल्लित हो जाता है और आँखों में आंसू भी आ जाता है।ऐसा लगता है कि यह एक योजना ही नहीं बल्कि शिक्षा की क्रांति है जो अंतिम व्यक्ति तक पहुंच रही है। मैंने उसे आश्वस्त किया कि उसके बच्चे का एडमिशन आगे जरुर होगा।

Advertisement

यह स्कूल गरीबतबके, जरूरतमंद बच्चों के लिए ही खोली गई है और उनका एडमिशन अवश्य होगा, प्रदेश भर के एसे परिवारों के लिए ही सरकारी इंग्लिश मीडीयम स्कूल खोले गए हैं मै माननीय मुख्यमंत्री जी और माननीय शिक्षा मंत्री जी के प्रति आभार व्यक्त करता हूँ और साथ में माँग करता हूँ की एसे गरीब लोगों के बच्चों के लिए पूरे प्रदेश में और स्कूल खोले।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button