देश

पांच राज्यों के चुनाव में हुई फजीहत के बाद, कांग्रेस को लग सकता है एक और झटका… जानिए क्या..?

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : नई दिल्ली – पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में फजीहत के बाद कांग्रेस को आने वाले दिनों में एक और बड़ा झटका लग सकता है। पांच राज्यों में विधानसभा चुनावों में कांग्रेस चारो खाने चित हो गई है। अब पार्टी के इस खराब प्रदर्शन का असर राज्यसभा में दिख सकता है। पांचों राज्यों में करारी शिकस्त के चलते पार्टी का राज्यसभा में संख्याबल प्रभावित होगा। संख्या में कमी के चलते पार्टी के ऊपर अब ऊपरी सदन में विपक्ष के नेता का दर्जा खोने का खतरा भी मंडरा गया है।

Advertisement

इसी साल होने हैं चुनाव

Advertisement

बता दें कि इसी साल राज्यसभा के लिए द्विवार्षिक चुनाव होने हैं। इस चुनाव के बाद कांग्रेस के सांसदों की संख्या में ऐतिहासिक कमी देखने को मिल सकती है। इस बीच विपक्ष के नेता का दर्जा बनाए रखने के लिए भी कांग्रेस के पास आवश्यक न्यूनतम संख्या न होने की भी संभावना है।

गुजरात और कर्नाटक विधानसभा चुनाव अहम

गौरतलब है कि अगर पार्टी इस साल के अंत में गुजरात चुनावों और अगले साल कर्नाटक विधानसभा चुनावों में अच्छा प्रदर्शन नहीं करती है तो वह राज्य सभा में इस दर्जे को खो देगी।

वर्तमान में कांग्रेस के पास 34 सदस्य

वर्तमान में कांग्रेस के पास राज्य सभा में 34 सदस्य हैं और इस साल कम से कम सात सीटें हारने की संभावना के चलते रिकॉर्ड निम्नस्तर पर पहुंच सकती है। बता दें कि मानदंडों के अनुसार, एक पार्टी के पास विपक्ष का दर्जा होने के लिए सदन की कुल सदस्यता का कम से कम 10 प्रतिशत होना चाहिए। फिलहाल यह आंकड़ा 25 सदस्य का है और मल्लिकार्जुन खड़गे सदन में विपक्ष के नेता हैं। कांग्रेस के पास लोकसभा में विपक्ष के नेता का दर्जा नहीं है क्योंकि सदन में उसकी वर्तमान संख्या सदन की सदस्यता के 10 प्रतिशत से कम है।

Advertisement

इसी महीने 13 सीटों को भरने के लिए चुनाव की घोषणा कर दी गई है।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button