छत्तीसगढ़

साहस और रोमांच की यात्रा….


रायपुर – अंतर्राज्यीय पर्यटन को बढावा देने और छत्तीसगढ़ की संस्कृति एवं यहां के पर्यटन स्थलों की जानकारी साझा करने के उद्देश्य से छत्तीसगढ़ के विभिन्न शहरों से 7 मोटरसाइकिल (रॉयल एनफिल्ड ) चालक दल छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश, उत्तरप्रदेश, हरियाणा, उत्तराखण्ड, हिमाचल प्रदेश जम्मू कश्मीर होते हुए लद्दाख पहुंचें एवं विश्व की सबसे ऊंची सड़क उमलिंगला जो 19200 फीट पर है से होते हुए वापस छत्तीसगढ़ आये, इस पूरे पर्यटन सर्किट के दौरान
Zozila दर्रा 11649 फीट
Namikla दर्रा 12198 फीट
Fotula दर्रा 13479 फीट
Khardungla दर्रा 17982 फीट
Tasagala दर्रा 15260 फीट
Nurbula दर्रा 17328 फीट
Umling La दर्रा 19024 फीट
Fotila दर्रा 18128 फीट
Tanglang La दर्रा 17582 फीट
Lachung La दर्रा 16616 फीट
Nakeela दर्रा 15547 फीट
Baralachala दर्रा 15912 फीट की ऊंचाइयों को पार करते हुए
करीब 6000 किलोमीटर की यात्रा 22 June 2022 को पूर्ण हुई, इस यात्रा का उद्देश्य Spread Love & Laughter through Tourism रखा गया था। इस यात्रा में भाग लेने वाले चालक दल अलग अलग व्यवसाय से संबंधित हैं लेकिन एक उद्देश्य इन सबको एक सूत्र में बांधा है वो है पर्यटन।
चालक दल इस प्रकार हैं

Advertisement
  1. डॉ भार्गव आयंगर (रायपुर)
  2. श्री मेहुल चौबे (रायपुर)
  3. श्री मनीष शिवानी (रायपुर)
  4. श्री अर्पित झा (रायपुर)
  5. श्री अभिषेक तिवारी (रायपुर)
  6. श्री दिनेश मीनोचा (बिलासपुर)
  7. श्री पार्थ कौशल (बिलासपुर)

सभी सदस्य 3 जून को सुबह 5 बजे रायपुर से उमलिंगला के लिए प्रस्थान किए थे और जगह जगह रुक कर लोगों को छत्तीसगढ़ और यहां के पर्यटन के सम्बंध मे जानकारी दिए।

Advertisement

इस समूह के समन्वयक और समूह के नेतृत्वकर्ता श्री मेहुल चौबे ने बताया कि ऐसी यात्राएं पहले भी कर चुके हैं लेकिन यह यात्रा अपने आप में अलग और चुनौतीपूर्ण रही क्योंकि यहां पर Oxygen की मात्रा बहुत कम रहती है और इस को ध्यान मे रखकर सभी सदस्य पिछ्ले तीन महीने से शारीरिक कसरत, ध्यान एवं योग के द्वारा अपने आप को उस परिस्थिति के लायक बनाने में लगे हुए हैं।इस साहसिक और रोमांचक यात्रा के लिए परिवार के सभी सदस्यों का और मित्रों का बहुत अच्छा सहयोग मिला जिसके फलस्वरुप इस यात्रा की योजना को मूर्तरूप दिया जा सका । इस यात्रा से बहुत कुछ सीखने को मिला और आगे भी ऐसी साहसिक यात्रा जारी रखने के लिए उत्साह और विश्वास भी प्रबल हुआ। धन्यवाद।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button