play-sharp-fill
छत्तीसगढ़

हाथियों का दल बेलगहना पहुंचा,  एक मकान व फसल को किया नुकसान…….

Advertisement

बिलासपुर : मरवाही वनमंडल से हाथियों का दल का बिलासपुर वनमंडल के बेलगहना रेंज में पहुंच गया है। इस क्षेत्र में भी हाथियों ने एक मकान क्षतिग्रस्त किया। वहीं दो किसानों की फसल रौंद दी। हाथियों की धमक से इस क्षेत्र में दहशत का माहौल है।

Advertisement

हालांकि वन विभाग की ओर से लगातार मुनादी कर हाथियों के आने की सूचना ग्रामीणों को दी जा रही है। उनसे अपील भी कर रहे हैं कि जंगल की ओर बिल्कुल भी न जाए। इससे खतरा हो सकता है।

Advertisement

अभी तक हाथियों का दल मध्य प्रदेश के अनूपपुर व छत्तीसगढ़ के मरवाही वनमंडल में पहुंच रहे थे। यह पहली बार है, जब दल बेलगहना रेंज में पहुंचा है। निगरानी ड्यूटी में लगे वनकर्मी हाथियों पर पैनी नजर रखे हुए हैं। इसके अलावा अफसरों को हाथियों के पल- पल की गतिविधियों से अवगत करा रहे हैं।

इसी के तहत गुरूवार को जो जानकारी दी गई है। उसके तहत हाथी बेलगहना रेंज के अंतर्गत खोंगसरा सर्किल के भोस्को बीट में हैं। हाथियों की संख्या छह है और इस क्षेत्र में नुकसान भी पहुंचा रहे हैं। गुरूवार को हाथियों ने एक मकान को क्षतिग्रस्त किया। वहीं दो किसानों की फसल भी रौंद दी।

वह कक्ष क्रमांक 2435, 2434, 2433 भोस्को, टाटीधार एवं बगधरा परिसर में विचरण करते हुए नजर आ रहे हैं। वह अचानकमार टाइगर रिज़र्व की ओर जा सकते हैं। इसकी सूचना भी टाइगर रिजर्व प्रबंधन को दे दी गई है। जिससे की वहां का अमला सतर्क रहे और हाथियों के पहुंचने की स्थिति में टाइगर रिजर्व के अंदर बसे 19 गांवों के ग्रामीणों को सजग रहने की अपील कर सके।

दरअसल हाथी किसी भी क्षेत्र में धमक जा रहे हैं। एकाएक पहुंचते हैं तो इससे ग्रामीणों की जान को खतरा भी है। इसीलिए वन विभाग आपस में एक- दूसरे को संदेश भी दे रहा है। चूंकि हाथियों को खदेड़ने पर सख्त मनाही है। इसलिए वन अमला केवल उन पर नजर रखा रहा है, ताकि किसी तरह की अप्रिय घटनाएं न हो।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button