छत्तीसगढ़बिलासपुर

अनिश्चितकालीन हड़ताल की धमकी के साथ..5 दिवसीय कलमबन्द हड़ताल खत्म..महारैली निकाल किया शक्ति प्रदर्शन..कहा अब होगा प्रदर्शन

(शशि कोन्हेर) : बिलासपुर : कर्मचारी,अधिकारियों की प्रदेश स्तरीय पांच दिवसीय हड़ताल,अनिश्चितकालीन हड़ताल की धमकी के साथ खत्म हुई। फेडरेशन के नेताओं ने कहा..जंग अभी खत्म नही हुई है। हमने पांच दिन में सरकार को अपनी ताकत का अहसास करवा दिया है। यद्यपि शासन से संवादहीनता है। बावजूद इसके सरकार को कर्मचारियों और अधिकारियों की दो सूत्रीय मांग को मानना ही होगा। ऐसा नहीं होगा कि नेताओं के लिए खजाने में रूपया हो..और आम कर्मचारी महंगाई की मार से खून के आंसू रोए। 31 जुलाई को फेडरेशन नेताओं की बैठक होगी। इसके बाद जल्द ही अनिश्चितकालीन हड़ताल की तारीख का एलान किया जाएगा।

Advertisement


फेडरेशन के नेताओं ने आज बिलासपुर में नेहरू चौक स्थित धरना स्थल से कलेक्टर कार्यालय तक महारैली निकालकर एकता का शक्ति प्रदर्शन किया। इस दौरान सरकार के खिलाफ कर्मचारियों ने जमकर नारेबाजी कर  ताकत का अहसास कराया।

Advertisement

 फेडरेशन के नेता रोहित तिवारी ने कहा कि हमने सेमीफायनल मैच में सरकार को अपनी एकता का ताकत दिखा दिया है।यह सच है कि सरकार ने हमारी दो सूत्रीय मांग को लेकर अभी कुछ नहीं कहा है। लेकिन हम भी हार मानने वाले नहीं है। 31  जुलाई को अधिकारियों और कर्मचारियों की बैठक होगी।  इसके बाद अनिश्चितकालीन हड़ताल की तारीख का एलान करना होगा। सरकार को किसी भी सूरत में महंगाई भत्ता और गृहभाड़ा भत्ता देना ही होगा।

Advertisement

रोहित तिवारी ने इस बात से इंकार किया कि आंदोलन में फूट पड़ गयी है। हमारे कुछ साथी पांच दिवसीय हड़ताल के बाद अनिश्चित कालीन हड़ताल की तत्काल मांग कर रहे थे। कुछ नियम होते हैं। उन्हें शायद इसकी जानकारी नहीं है। लेकिन फूट जैसी बात कुछ नहीं है।

                  

लिपिक नेता सुनील यादव ने कहा कि पांच दिवसीय हड़ताल पूरी तरह से सफल रहा। हम चरण बद्ध आँदोलन कर रहे हैं। सरकार को सौतेला व्यवहार करना छोड़ना होगा।नियमानुसार केन्द्र की तर्ज महंगाई भत्ता के साथ गृहभाड़ा भत्ता देना होगा। हम हारे नहीं बल्कि जीते हैं।

शिक्षक  नेता अमित नामदेव ने बताया कि पांच दिवसीय हड़ताल पूरी तरह से सफल रहा। 80 संगठनों ने एक बैनर के नीचे बैठकर दो सूत्रीय मांग को पुरजोर तरीके से पेश किया गया। सरकार हमारी मांग को लेकर गंभीर है। हम जल्द ही अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने वाले हैं।

शिक्षक नेता अश्वनि कुर्रे समेत अन्य ने बताया कि आंदोलन में किसी प्रकार की फूट नहीं है। हम अपनी दो सत्रीय मांग को लेकर एक हैं। रास्ते अलग अलग हो सकते हैं लेकिन लक्ष्य हमारा एक है। महंगाई चरम पर है। नेताओं ने अपनी व्यवस्था कर लिया है। आम कर्चमारियों को महंगाई की आग में झोंक दिया है। लेकिन हम अपनी मांग को हर सूरत में हासिल करेंगे।

Advertisement

कलेक्टर से मुलाकात

Advertisement

 वरिष्ठ कर्मचारी नेता रोहित तिवारी, बीपी सोनी,पी.आर यादव, जीआर चन्द्रा,सुनील यादव समेत एक बड़ा प्रतिनिधिमण्डल कलेक्टर सौरभ कुमार से मुलाकात कर दो सूत्रीय मांग को सामने रखा। कलेक्टर ने कहा..चूकि यह सब फैसला सरकार को लेना है। कर्मचारियों और अधिकारियों की मांग को सरकार के सामने पेश करेंगे।

इस दौरान कलेक्टर को कर्मचारी नेताओं ने दैनिक वेतनभोगियों समेत अंश कालीन कर्मचारियों की मांग को भी रखा। कलेक्टर ने बताया कि यह सब जिला स्तर पर संभव है। इस मांग को पूरी गंभीरता से लिया जाएगा। कर्मचारियों की मांग पर कलेक्टर ने कहा कि शांति समिति की बैठक जल्द ही बुलाया जाएगा। कर्मचारी जब चाहें बैठक का फैसला करें..हम तैयार हैं। ऐसा कर हमें भी अच्छा लगेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button